Published On : Tue, Jul 10th, 2018

देश के 6 यूनिवर्सिटीज को सबसे प्रतिष्ठित संस्थान का दर्जा देने की हुई घोषणा

नागपुर: मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने वर्ल्ड क्लास यूनिवर्सिटीज की रेस में भारतीय संस्थानों को भी शामिल करवाने के लिए सोमवार को 6 यूनिवर्सिटीज को सबसे प्रतिष्ठित संस्थान का दर्जा देने की घोषणा की. ये संस्थान दुनिया के टॉप संस्थानों से टक्कर लेंगे.

इन 6 यूनिवर्सिटीज में 3 सरकारी और तीन प्राइवेट संस्थान हैं . हालांकि, इसके लिए कई और संस्थानों ने अप्लाई किया था लेकिन एक्सपर्ट्स ने इसके लिए सिर्फ 6 संस्थान ही चुने. इनमें सरकारी संस्थान आईआईटी दिल्ली, आईआईटी बॉम्बे और आईआईएससी बेंगलुरु शामिल हैं .वहीं प्राइवेट सेक्टर से मनिपाल अकैडमी ऑफ हायर एजुकेशन, बिट्स पिलानी और जियो इंस्टिट्यूट को भी उत्कृष्ट संस्थान का दर्जा दिया गया है. पहले कहा जा रहा था कि 20 संस्थानों को यह दर्जा मिलेगा लेकिन मंत्रालय ने छह संस्थानों को ही चुना है. इन संस्थानों को अब ‘इंस्टिट्यूट ऑफ एमिनेंस’ का दर्जा मिलेगा.

इंस्टिट्यूट ऑफ एमिनेंस का दर्जा मिल जाने के बाद अब इन संस्थानों को स्वायतता मिल जाएगी. इन संस्थानों को नए कोर्स शुरू करने की छूट, फॉरेन फैकल्टी बुलाने और फॉरेन यूनिवर्सिटीज के साथ सहयोग करने जैसी विशेष शक्तियां मिलेंगी.

इस स्वायतता के साथ ही अब आईआईटी दिल्ली, आईआईटी बॉम्बे समेत ये 6 संस्थान अब अपने अकैडमिक प्रोग्राम, रिसर्च प्रोग्राम और अन्य बातों का फैसला खुद ले सकेंगे. अब तक इसके लिए यूजीसी का अप्रूवल लेना पड़ता था. अपने प्रोग्राम्स खुद शुरू करने की आजादी इन संस्थानों को दुनिया के संस्थाओं से टक्कर लेने में मदद करेगी .