Published On : Thu, Jul 11th, 2019

23 पैसे वाला मैच पलटाः पन्टर कंगाल- बुक्की मालामाल

गोंदियाः भारत-न्यूजीलैंड सेमी फाइनल मैच पर जमकर खेला गया सट्टा

गोंदिया: क्र्रिकेट के महाकुंभ में भारत का सफर न्यूजीलैंड के हाथों 18 रनों से मिली हार के साथ समाप्त हो गया।

देशभर के क्रिकेट प्रेमियों की तरह गोंदिया के क्रिकेट प्रेमी भी वर्ल्ड कप के सेमी फाइनल मुकाबले में भारत को जीत का एक प्रबल दावेदार मान रहे थे, लिहाजा क्रिकेट पर सट्टा लगाने के शौकीन पन्टरों ने भारत की जीत पर सबसे अधिक दांव खेला और बुक्कियों के हाथों कंगाल हो गए।

ओल्ड ट्रैफर्ड में मंगलवार को भारत-न्यूजीलैंड का मैच शुरू होने से पहले गोंदिया सट्टा बाजार में भारत का भाव महज 40 पैसे और न्यूजीलैंड का ढ़ाई रूपये था। न्यूजीलैंड ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया तथा भारत के तेज गेंदबाजों की सधी हुई गेंदबाजी के आगे शुरूवाती 10 ओवर में महज 27 रन ही बन पाए।

बारिश के चलते 46.1 ओवर में खेल रोक दिया गया उस वक्त न्यूजीलैंड ने 5 विकेट खोकर 211 रन बनाए थे तथा गोंदिया सट्टा बाजार में भाव इंडिया 23 पैसे, न्यूजीलैंड 4 रूपये था।

मैच बुधवार (रिजर्व-डे) को यहीं से शुरू हुआ। किवी टीम ने 50 ओवर में 8 विकेट खोकर 239 रन बनाए और भारत के सामने जीत के लिए 240 रन का लक्ष्य रखा।

टॉप आर्डर का खराब प्रदर्शन से निचले क्रम के बल्लेबाजों पर दबाव बना
टार्गेट छोटा होने की वजह से सट्टा बाजार भी भारत की मजबूत क्रम की बल्लेबाजी के चलते उसे जीत का दावेदार बता रहा था लिहाजा भारत की बेटिंग शुरू होने के वक्त इंडिया मात्र 23 पैसे, न्यूजीलैंड 4 रूपये का भाव था।

इंडिया की शुरूवात बेहद खराब रही, महज 3.1 ओवर में भारतीय टीम ने 3 विकेट खो दिए। के.एल. राहुल, रोहित शर्मा, विराट कोहली के 1-1 रन पर आऊट हो जाने और टॉप आर्डर के सलामी बल्लेबाजों के खराब प्रदर्शन के बाद निचले क्रम के बल्लेबाजों पर भारतीय पारी को संभालने का दबाव पड़ा, उस वक्त गोंदिया के सट्टाबाजार में भाव न्यूजीलैंड 50 पैसे, इंडिया 2 रूपये का था।

ऋषभ पंत और हार्दिक पांड्या से सयंम भरी पारियों की उम्मीद नहीं की जा सकती थी लिहाजा वे भी कुछ रनों का सहयोग करते हुए बचकाना शॉट खेलकर आऊट हो गए।

जडेजा-धोनी की शतकीय साझेदारी से बंधी उम्मीदें
रविंद्र जडेजा ने महेंद्रसिंह धोनी के साथ शतकीय साझेदारी करते हुए पारी को संभाला जिससे दर्शकों में जीत की उम्मीदें बंधी। जडेजा ने 39 गेंदों पर अपना अर्धशतक पुरा करते हुए 77 रनों की पारी खेली, उस वक्त गोंदिया सट्टा बाजार में न्यूजीलैंड का भाव 60 पैसे, इंडिया 1.80 पैसे था। जड़ेजा का विकेट गिरते ही टेलेंडर्स पर दबाव बढ़ा, धोनी ने धीमी बल्लेबाजी के बावजूद अपनी विकेट संभाले रखी और 50 रन पुरे किए लेकिन तब तक देर हो चुकी थी। धोनी के छक्का मारने के बाद अगली गेंद पर किवी फिल्डर्स ने उन्हें पेवेलियन का रास्ता दिखा दिया। धोनी के रन आऊट होते ही टीम इंडिया बिखर गई और रही-सही उम्मीदें भी खत्म हो गई, आखरी ओवर की तीसरी गेंद पर भारतीय पारी 221 रनों पर सिमट गई। इस तरह न्यूजीलैंड ने सेमी फाइनल मुकाबले में भारत को 18 रनों से परास्त कर फाइनल मुकाबले के लिए अपनी जगह बनायी।

करोड़ों क्रिकेट प्रेमियों के सपने तोड़ दिए
टीम की हार से भारतीय क्रिकेट प्रेमी जहां बेहद नाराज है, वहीं टॉप आर्डर के बल्लेबाजों ने उनके सपने भी तोड़ दिए।

इस उतार-चढ़ाव भरे सेमी फाइनल मुकाबले पर गोंदिया में बड़े पैमाने पर सट्टा खेला गया और भारत की जीत पर करोड़ों का दावं लगाने वाले पन्टरों को भागने का मौका तक नहीं मिला और वे कंगाल हो गए। अब इस वर्ल्ड कप के मैचों पर पन्टरों के तरफ फंसी हुई रक्कम निकालने के लिए शहर में सक्रिय 2 दर्जन बुकी़ज ने तरह-तरह के पेंतरे और हथकंडे आजमाने शुरू कर दिए है।

मजे की बात यह रही है कि, इस समूचे क्रिकेट महाकुंभ के दौरान गोंदिया जिले में एक भी जगह पुलिस छापा (रेड) नहीं पड़ी। इससे पुलिस की कार्यप्रणाली पर भी अब संदेह की ऊंगली उठ रही है?

वर्ल्डकप का दुसरा सेमीफाइनल आज गुरूवार को आस्ट्रेलिया तथा इंग्लैड के बीच खेला जा रहा है। गोंदिया के बुक्की इंग्लैड को जीत का प्रबल दावेदार मान रहे है लिहाजा इंग्लैंड का भाव 78 पैसे और आस्ट्रेलिया का भाव 1 रूपया है।