Published On : Mon, Sep 24th, 2018

गाँधी जयंती के अवसर पर सेवाग्राम में कांग्रेस की वर्किंग कमेटी की बैठक

नागपुर : अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी की आगामी बैठक वर्धा स्थित सेवाग्राम में होगी। गाँधी जयंती के अवसर पर उनकी कर्मभूमि सेवाग्राम में इस बैठक का आयोजन किया जायेगा। बैठक के आयोजन को लेकर पार्टी द्वार तैयारी शुरू हो गयी है। सोमवार को कांग्रेस के अखिल भारतीय महासचिव अशोक गहलोत और पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष अशोक चव्हाण सेवाग्राम का जायजा लेने पहले विमान से नागपुर पहुँचे। उसके बाद दोनों नागपुर के स्थानीय नेताओं के साथ वर्धा के लिए रवाना हुए। आगामी 2 अक्टूबर को गाँधी जयंती के 150 वर्ष पूर्ण हो रहे है।

इस उपलक्ष्य में देश भर में कई कार्यक्रम घोषित है। केंद्र सरकार द्वारा भी कई कार्यक्रम तय किये गए है। गाँधी कांग्रेस पार्टी के लिए आदर्श स्थान रखते है इसलिए पार्टी उनकी जन्मशताब्दी के 150 वर्ष के कार्यक्रम को भव्य तरीके से मानना चाहती है इसलिए इस बार अपनी वर्किंग कमेटी की बैठक के लिए बापू की कर्मभूमि सेवाग्राम आश्रम को चुना गया है।

इस बैठक के दौरान देश भर के सभी बड़े और प्रमुख नेता सेवाग्राम में मौजूद रहेंगे। सेवाग्राम न सिर्फ कांग्रेस के लिए बल्कि स्वतंत्रता आंदोलन के लिए बेहद महत्त्व रखता है। यही राष्ट्रपिता गाँधी अपने जीवन का अधिक और महत्वपूर्ण समय व्यतीत किया। साथ ही इसी आश्रम से 14 जुलाई 1942 को भारत छोड़ो आंदोलन का आगाज हुआ था।

गाँधी जयंती के अवसर पर आयोजित बैठक का स्वरुप अलग होगा। देश में होने वाले लोकसभा चुनाव से पहले यह बैठक पार्टी के लिए बेहद महत्वपूर्ण होगी। इस बैठक के माध्यम से कांग्रेस सत्ताधारी बीजेपी को न केवल घेरने की कोशिश करेगी। बल्कि देश के बुद्धिजीवी वर्ग को यह संदेश भी दिया जायेगा कि बापू के आचरण और उनके द्वारा बताये गए रास्ते पर कांग्रेस ही चल रही है।


नागपुर विमानतल पर पूर्व केंद्रीय मंत्री विलास मुत्तेमवार,पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव अविनाश पांडे,शहराध्यक्ष विकास ठाकरे के साथ अन्य नेताओं ने गहलोत और चव्हाण का स्वागत किया।