Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!
    | | Contact: 8407908145 |
    Published On : Tue, Sep 13th, 2016
    nagpurhindinews | By Nagpur Today Nagpur News

    ओंकार नगर में दिनदहाडे युवक को गोली मारी

    fsdfsdआर्किटेक्ट निमगडे. हत्याकांड की गुत्थी सुलझने के पहले ही अजनी के ओंकार नगर में दिनदहाडे. एक युवक को गोली मारकर जख्मी कर दिया गया. यह वारदात सोमवार की दोपहर हुई. जख्मी बेसा पॉवर हाउस निवासी 35 वर्षीय मो. यासिन कुरैशी है. आरंभिक जांच में जमीन विवाद के चलते वारदात को अंजाम दिए जाने का संदेह है. यासिन का ओंकार नगर के पास चिकन सेंटर है. यह दुकान एक प्लॉट पर है. प्लॉट का कब्जा खाली करने के लिए यासिन का अदालती विवाद चल रहा था.

    सोमवार दोपहर 1 बजे यासिन बाइक पर सवार होकर मित्र से भेंट करने जा रहा था. ओंकार नगर में श्याम बार के पिछले हिस्से में बाइक पर डबल सीट सवार दो युवक आए. बाइक चला रहे युवक ने हेलमेट पहना था जबकि पिछले ने रुमाल से मुंह ढका था. पीछे बैठे युवक ने यासिन पर गोली चला दी. गोली उसके दांएं हाथ को छूकर निकल गई. पटाखे की आवाज सुनकर यासिन को गोली चलने का पता चला. गोली दागकर हमलावर तत्काल फरार हो गए. यासिन को लोगों ने मेडिकल पहुंचाया. वारदात का पता चलते ही शहर पुलिस में हड.कंप मच गया. अपर आयुक्त रंजन कुमार शर्मा, डीसीपी जी. श्रीधर, अजनी के थानेदार संदीपान पवार तत्काल मौके पर पहुंच गए.

    gfdgयासिन की पृष्ठभूमि और जमीन को लेकर चल रहे विवाद के चलते पुलिस को सरसरी तौर पर उसकी बात पर भरोसा नहीं हुआ. वह तत्काल गोली का कवर और सीसीटीवी खोजने में जुट गई. उसे 60 फुट की दूरी पर गोली का कवर मिला. पुलिस ने उसे बरामद कर लिया है. इससे देशी कट्टे का इस्तेमाल किए जाने का पता चलता है. इसी बीच पुलिस को सीसीटीवी फुटेज भी मिल गया. उसमें हमलावर नजर आ गए. इसे देखते ही पुलिस हरकत में आ गई. पुलिस ने संदेह के आधार पर संदिग्धों की धरपकड. आरंभ कर दी. देर रात तक हमले की गुत्थी सुलझ नहीं पाई.

    यासिन की पृष्ठभूमि को लेकर पुलिस ऊहापोह में थी. आरंभ में उसके खिलाफ मारपीट का मामला दर्ज होना बताया गया लेकिन बाद में उसकी पुष्टि नहीं हुई. वह कुछ समय से पुलिस मित्र अथवा पंटर बनकर घूमता था. उसके पुलिस अधिकारी-कर्मियों से भी अच्छे संबंध हैं. हालांकि पुलिस के दस्तावेज में यासिन पुलिस मित्र के तौर पर दर्ज नहीं है. इस हमले में यासिन को सामान्य चोट आई है. उसका कहना है कि गोली दांएं हाथ को छूकर निकल गई.

    मामूली अंतर होने पर उसकी जान पर बन सकती थी. वारदात के वक्त घटनास्थल पर अधिक चहल-पहल भी नहीं थी. पुलिस को हमलावर का कोई सुराग नहीं मिल रहा है.


    Stay Updated : Download Our App
    Mo. 8407908145