Published On : Tue, Jun 9th, 2020

खापरखेड़ा परिसर में ओडिशा से आया युवक निकला कोरोना पॉजिटिव, गाँव में फैली दहशत

खापरखेडा– ओडिशा से खापरखेड़ा के भानेगांव में एक युवक की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आने के बाद प्रशासन की नींद उड़ गई है. इस युवक का रहस्य 17 दिनों के बाद खुला है. खापरखेड़ा पुलिस स्टेशन की हद में भानेगांव ग्रामपंचायत वार्ड नं 1 में सोमवार को इस खबर से खलबली मच गई है. इस युवक की मौसी सास यह भानेगांव ग्रामपंचायत की सदस्या है. मिली जानकारी के अनुसार यह युवक भानेगांव में ही अपनी मौसी सांस के घर किराए से रहता था. वो ओडिशा की एक कंपनी में ड्राइवर का काम करता था. 23 मई को वह भानेगांव आया.

उसी दिन उसकी नागपुर शासकीय हॉस्पिटल में जांच कर उसे क्वारंटाइन किया गया. 26 तारीख को उसे भानेगांव स्थित बॅरि. शेषराव वानखेडे इस कॉलेज में क्वारंटाइन किया गया. इसके साथ इस गाँव के 3 लोगों को और क्वारंटाइन किया गया. लेकिन चार दिन कॉलेज में रहने के बाद सुविधा नहीं होने के आरोप करते हुए उसने होम क्वारंटाइन कर लिया. तभी से युवक और उसके साथ के 3 लोग घर में ही होम क्वारंटाइन थे.

ख़ास बात यह है की उसका फिर से स्वॅब टेस्ट लिया गया. सोमवार को उसका रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद परिसर में दहशत का वातावरण निर्माण हो गया है. ग्रामपंचायत भानेगांव प्रशासन, पुलिस प्रशासन, स्वास्थ विभाग चिंचोली ने 100 मीटर का परिसर सील किया है.