Published On : Mon, Apr 17th, 2017

पवनशक्ति नगर में कुएँ से बरामद हुई युवक की लाश


नागपुर:
शहर के नंदनवन पुलिस थाना अंतर्गत पवनशक्ति नगर में सोमवार को कुए में एक लाश बरामद हुई है। पुलिस द्वारा छानबीन किये जाने के बाद लाश की पहचान 26 वर्षीया लीकेश विजय साठवणे की होने की जानकारी सामने आयी है। मृतक ऑटो चालाक का काम करता था। मिली जानकारी के मुताबिक 9 अप्रैल को रात में लगभग 10 बजे के करीब लीकेश अपना मोबाइल घर में ही छोड़कर घर से निकला था। घर से बाहर जाते समय उसने परिवारवालों को कुछ ही देर में लौट आने की बात कही थी। लीकेश जब काफी समय घर वापस नहीं लौटा तो जहाँ वह अक्सर जाया करता था वह परिवारजनों ने उसकी खोजबीन की पर वह नहीं मिला जिसके बाद 10 तारीख को उसकी गुमशुदगी की शिकायत नंदनवन थाने में दर्ज कराई गयी। बहरहाल पुलिस ने इसे गुमशुदगी का मामला दर्ज कर आगे की जाँच शुरू कर दी है।

मामले की जांच कर रही नंदनवन पुलिस को गोपनीय सूचना मिली थी की किसी जया नामक के से लिकेश का झगड़ा और मारपीट हुई थी इस दौरान जया ने लिकेश को देख लेने की धमकी भी दी थी। नंदनवन पुलिस ने 13 एप्रिल को जया को पूछताछ के लिए बुलाया जिसमे उसने झगड़े की बात तो काबुली पर गुस्से में धमकी दिए जाने की जानकारी दी। जाया द्वारा पुलिस को दिए गए बयान से उस पर संशय हुआ। जाँच पुलिस को किसी गोपाल नामक व्यक्ति द्वारा लिकेश की हत्या किये जाने की जानकारी हाँथ लगी। पुलिस ने 19 वर्षीय प्रेमचंद उर्फ़ गोपाल बिसेन को गिरफ्तार किया और उससे कड़ाई से पूछताछ की इस पूछताछ में गोपाल ने अपना गुनाह कबूल कर लिया।


पुलिस को दिए बयान में गोपाल ने बताया की उसने अपने मित्र प्रफुल्ल के और लीकेश के साथ शराब पी और बाद में गला घोटकर उसकी हत्या कर दी। जिसके बाद दोनों ने उसकी लाश को कुएं में फेक दिया। गोपाल के मुताबिक इसी जाया नामक महिला ने उसे 50 हज़ार रूपए की सुपारी दी थी।

गोपाल फ़िलहाल पुलिस हिरासत में है। कुए बरामद लोकेश की बॉडी पूरी तरह से सड चुकी थी। मृतक लीकेश पर हत्या और मारपीट का मामला दर्ज था। वर्ष 2013 में उसने हत्या की वारदात दिया था।