| | Contact: 8407908145 |
    Published On : Fri, Dec 11th, 2020

    अजनी के पेड़ों को बचाने के लिए युवा कर रहे है जी तोड़ कोशिश

    नागपुर– अजनी में राष्ट्रीय महामार्ग प्राधिकरण द्वारा बनाएं रहे इंटर मॉडल स्टेशन का विरोध अब बढ़ता ही जा रहा है. इसके विरोध में नागपुर शहर के नागरिक और खासकर युवा अब आए दिन यहाँ के पेड़ काटने के निर्णय का विरोध कर रहे है.

    जानकारी के अनुसार करीब 7 हजार पेड़ काटे जानेवाले है. इससे नागपुर के हरियाली को एक बार फिर बड़ा नुक्सान होनेवाला है. इसको लेकर शहर के युवाओ की ओर से लगातार प्रदर्शन किए जा रहे है. सामाजिक कार्यकर्त्ता कुणाल मौर्य, पंकज जूनघरे, असित मेश्राम,प्रवीण सारडा, रोशन अरसपुरे,चैतन्य ठाकरे, सुमित मोहिते, प्रतिक ढोमणे, विशाल कावले और तुषार जवादे लगातार अपने स्तर पर प्रदर्शन कर रहे है.

    कुणाल मौर्य का कहना है की एक तरफ जहां सरकार पेड़ लगाओ और पर्यावरण बचाव का नारा लगा रही है तो वही दूसरी तरफ हजारों की तादाद में बड़े बड़े पेड़ कांटे जा रहे है. उन्होंने कहा की एक समय नागपुर शहर को हरियाली और ग्रीन शहर के रूप में पहचाना जाता है, लेकिन अब यहां पेड़ो की संख्या कम हो रही है और दूसरी तरफ विकास के नाम पर शहर में प्रदुषण भी बढ़ा है. उन्होंने अजनी के पेड़ो को काटने का विरोध किया है. उन्होंने कहा की विदेशों से भी जहां पर पर्यावरण को सबसे ज्यादा महत्व दिया जाता है, वहां से भी इस पेड़ बचाव मुहीम को सपोर्ट किया जा रहा है.

    Stay Updated : Download Our App
    Mo. 8407908145