Published On : Wed, May 29th, 2019

नितिन गडकरी और बालू धानोरकर की जीत में यंग फ़ोर्स सोशल आर्गेनाईजेशन का रहा महत्वपूर्ण योगदान

नागपुर: नागपुर से भाजपा उमेदार नितिन गडकरी और चंद्रपुर से कांग्रेस के उमेदवार सुरेश (बालू ) धानोरकर की जीत में तेजी से चर्चित हो रही यंग फ़ोर्स सोशल आर्गेनाईजेशन का भी महत्वपूर्ण योगदान रहा. यंग फ़ोर्स सोशल आर्गेनाईजेशन के अध्यक्ष गुलाम अशरफी ने पहले ही घोषणा की थी की उनका संघटन विकास कार्य करनेवाले नेताओ का ही समर्थन करेगा न की जातिवाद पर काम करेगा. गुलाम अशरफी ने चुनाव से पूर्व ही अपने संगठन को नितिन गडकरी की जीत के लिए काम पर लगा दिया था. यादवनगर में अशरफी ने नितिन गडकरी की एक विशाल सभा भी आयोजित की थी. जिसमे बॉलीवुड के कलाकार भी शामिल हुए थे. उन्होंने कहा कि गडकरी ने नागपुर का काफी तेजी से विकास किया है. इसी कारण संघटन विकास करनेवाले नेता का ही किसी भी चुनाव में साथ देगा.

यंग सोशल आर्गेनाईजेशन का विस्तार समूचे विदर्भ में हो चूका है. हर शहर में इसकी शाखाएं स्थापित हो रही है. विकास तथा बेरोजगारों को रोजगार दिलाना इस संघटन का प्रमुख लक्ष्य है. गुलाम अशरफी ने बताया की वरोरा के विधायक रहे बालू धानोरकर भी विकास पुरुष है. आम जनता का कार्य करने में वे हमेशा आगे रहते है. इसी कारण चंद्रपुर के संघटन के कार्यकर्ताओ ने धानोरकर का प्रचार किया और उन्हें जीत भी हासिल हुई. गुलाम अशरफी खुश है की उन्होंने जिन दो उमेदवारो का इस लोकसभा चुनाव में समर्थन किया, वे दोनों ही चुनाव जीत गए. भविष्य में उनका संघटन सोच-समझकर और विकास कार्य करनेवाले नेता का ही साथ देगा. गडकरी और धानोरकर की जीत में संघटन के अध्यक्ष गुलाम अशरफी के अलावा राहुल प्रधान, कलीम रहमान, सुनील खड़से, पप्पू राजा बाली, धरम ठाकुर, यनुस अली, गुल्लू सरपंच, पप्पू धोतरा, सुरेंद्र यादव, सचिन साहू, महेश जुमनाके, रुपेश करड़भुंजे, हरपाल सिंह बाजवा, सिकंदर शेख, विक्की, प्रमोद माकरे ने उल्लेखनीय भूमिका निभाई है.