Published On : Thu, Oct 26th, 2017

कलाकार नहीं बल्कि दिल्ली के मॉडल्स की योगी ने उतारी थी आरती जो बने थे राम-लक्ष्मण व सीता

सीएम योगी आदित्यनाथ इन दिनों राम मंदिर पर ध्यान दे रहे है जिसके लिए उन्होंने दिवाली से एक दिन पहले भव्य कार्यक्रम आयोजित किया। इसमें योगी जी ने त्रेतायुग के उस पल को रीक्रिएट किया जिसमे रामचंद्र जी 14 बरस का वनवास काटकर अयोध्या वापस आते है और अयोध्यावासी घी के दीये जलाकर उनका स्वागत करते है।

लेकिन योगी जी के कार्यक्रम में आये राम, सीता और लक्ष्मण कोई कलाकार नही बल्कि मॉडल थे| ये तीनों दिल्ली के युवा मॉडल थे, जिनके चयन के लिए यूपी सरकार ने एक एजेंसी को ठेका दिया था।

ये बताने की ज़रूरत नही की एक कलाकार और मॉडल में क्या अंतर होता है। योगी सरकार ने राम, सीता और लक्ष्मण के चयन के लिए यह ठेका एक एजेंसी को सौपा था जिसके लिए बड़ी रकम भी दी गई थी। गौरतलब है इस कार्यक्रम में थे उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, राज्यपाल राम नाईक और अन्य कई मंत्री मौजूद थे।

किरदारों के सेलेक्शन के लिए हुआ था कॉन्ट्रैक्ट

पर्यटन निगम की डेप्युटी डायरेक्टर प्रीति श्रीवास्तव ने बताया, किरदारों के पसंदगी के लिए परसेप्ट लिमिटेड एजेंसी से कॉन्ट्रैक्ट हुआ था। परसेप्ट ने ही तीनों को सेलेक्ट किया और फीस तय की। राम, लक्ष्मण, सीता बाकायदा पुष्पक विमान से यहां पहुंचे थे। मॉडल्स को कोई एक्टिंग नही करनी थी लेकिन इसके बावजूद इन्होने दिन में 8 घंटे अभ्यास किया।

मिलिए राम से जिससे योगी ने कहा- ‘आपका स्वागत है अयोध्या महाराज’

दिल्ली के रहने वाले 20 साल के हेमंत कालरा को अयोध्या के इवेंट के 4 दिन पहले राम का रोल मिला था। उन्होंने बताया- “मैं बीकॉम कर चुका हूं, 4 महीने पहले ही मॉडलिंग शुरू की है। अयोध्या के कार्यक्रम से 4 दिन पहले मुझे राम का रोल ऑफर किया गया। बचपन में देखे रामायण सीरियल से बड़ी मदद मिली।”

उन्होंने राम के कैरेक्टर के लिए छाती चौड़ीकर चलना और चेहरे पर कोई शिकन न हो उसकी प्रैक्टिस करना भी सीखा। उन्होंने आगे बताया, “जूलरी पहनकर और धनुष उठाकर चलना थोड़ा मुश्किल था।” हेलिकॉप्टर से उतरा तो योगीजी ने कहा- ‘आपका स्वागत है अयोध्या महाराज।’ वह वैसे ही आदर कर रहे थे जैसे सच में उनके सामने भगवान राम हों।’

“रोज 8 घंटे यूट्यूब पर सीता का रोल देख प्रैक्ट‍िस किया”

वहीं, सीता का रोल दिल्ली की रहने वाली 22 साल की आंचल घई ने निभाया था। आंचल बताती हैं- ‘दो साल से मॉडलिंग कर रही हूं। हफ्तेभर पहले ही सीताजी का रोल ऑफर किया गया। फिर तो मैंने दिन-रात मेहनत की।’

‘यूट्यूब पर रोज 8 से 10 घंटे सीता का रोल देखती, फिर मिरर के सामने उसकी प्रैक्टिस करती रही।’ ‘अयोध्या में जब मैं पुष्पक विमान से उतरी तो सामने सीएम योगीजी, राज्यपाल राम नाईक और कई मंत्री थे। सीएम सामने आए कहा- ‘आपका स्वागत है सीता मां।’ जब मुख्यमंत्री और राज्यपाल पूजा कर रहे थे तो मैं बहुत एक्साइटेड हो गई थी। तब मैं सीताजी का रोल कैसे कर पा रही थी ये तो भगवान ही जानते हैं।’

मिलिए लक्ष्मण से

मुजफ्फरनगर के रहने वाले विक्रांत ठाकुर ने लक्ष्मण का किरदार नि‍भाया। विक्रांत इंजीनियर की पढ़ाई कर चुके हैं। वो बताते हैं- ‘मैं डेढ़ साल से मॉडलिंग कर रहा हूं। कुछ मराठी मूवी भी की है। मुझे तो इवेंट से सिर्फ दो दिन पहले बताया गया कि लक्ष्मण का रोल करना है।’

‘यूट्यूब पर गया और लक्ष्मण के रोल को अपने शरीर में उतारने के लिए करीब 16 घंटे का रामायण का वीडियो देख डाला। हमें कोई डायलॉग नहीं बोलना था। सिर्फ बॉडी लैंग्वेंज परफेक्ट करनी थी।’

‘जिसे अब तक टीवी पर देखा था कार्यक्रम में वह हमारी आरती उतार रहे थे। उनका आदर भाव वैसे ही था जैसे भगवान के साथ चल रहे हों। ईश्वर की कृपा से ही यह मौका मिला।’

—As Published in Viralinindia.net