Published On : Fri, Jun 4th, 2021

विश्व के सबसे बड़े ऑनलाइन अंतर्राष्ट्रीय सर्वोदय धार्मिक शिक्षण शिविर का हुआ शुभारंभ

औरंगाबाद : जैन जगत में, जैन इतिहास में, जैन संस्कृति में विश्व का सबसे बड़ा ऑनलाइन अंतर्राष्ट्रीय सर्वोदय धार्मिक शिक्षण शिविर का शुभारंभ शुक्रवार को हुआ. श्री. दिगंबर जैन क्षेत्र कुंथुगिरी, श्री. दिगंबर जैन क्षेत्र वरुर, श्री. धर्मतीर्थ क्षेत्र द्वारा संयुक्त आयोजन किया गया.

आचार्य महासेन के बाद विशाल पैमाने पर आयोजन किया हैं. भारत गौरव जगदगुरु गणाधिपति गणधराचार्य कुंथुसागरजी गुरुदेव के आशीर्वाद से उनके आज्ञानुवर्ती शिष्य आचार्यश्री गुप्तिनंदीजी गुरुदेव, आचार्यश्री गुणधरनंदीजी गुरुदेव के संकल्पना और मार्गदर्शन में भारत 61 से अधिक दिगंबर आचार्य, उपाध्याय, मुनिराज, गणिनी आर्यिका, आर्यिका माताजी, ऐलक, क्षुल्लक, क्षुल्लिका आदि अनेक साधु देश विदेश के भक्तों को अनेक विषयों पर मार्गदर्शन करेंगे. देश विदेश के भक्तों ने ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन किया हैं.

पंद्रह हजार भक्तों का रजिस्ट्रेशन हो चुका हैं. एक एक आईडी चार-चार भक्त धार्मिक शिक्षा करेंगे. साठ हजार भक्तों को साधु संत पढ़ायेंगे. जिनवाणी चैनल के माध्यम से अनेक भक्तों की पढ़ने की व्यवस्था की गई हैं. णमोकार महामंत्र, 24 तीर्थंकर, यंत्र मंत्र, जैन ज्योतिष, कर्म सिद्धांत, कर्म कांड, बाल बोध, बाल विकास, प्रकृति संरक्षण, निसर्गोपचार, महिला संरक्षण, पर्यावरण, आयुर्वेद, विज्ञान आदि विषयों पर 4 जून से शुरू हो चुका हैं 13 जून तक यह शिविर रहेगा. दोपहर 12:30 बजे से शाम 5 बजे तक प्रतिदिन 20-20 मिनट सभी संत पढ़ायेंगे, मार्गदर्शन करेंगे.