Published On : Sat, Feb 21st, 2015

अकोला : हेवन बार के खिलाफ महिलाओं का उग्र प्रदर्शन


बार को किया बाहरसे बंद पिने वाले, अंदर वाले अंदर बाहर वाले बाहर

bar
अकोला। विगत 12 साल से भी अधिक समय से शहर के तापडिया नगर परिसर स्थित रिहायशी इलाके में संचालित हो रहे हेवन बार को बंद करने की मांग करते हुए आज महिलाओं ने देर रात तक बार के सामने उग्र प्रदर्शन किया. दौरान महिलाओं की नारेबाजी के बीच संचालक द्वारा अभद्रता की गर्इं. ऐसी शिकायत महिलाओं ने की है.

ज्ञात हो कि तापडिया नगर में मोहन भाजी भंडार के समीप सुरेश भोंबले द्वारा संचालित हेवन बार कार्यरत है. सन 2001 में शहर के रिहायशी क्षेत्र में बार को अनुमति देने का विरोध किया गया था. लेकिन बार मालिक ने सीधे मुंबई से आदेश पारीत करवाने के कारण बार आरंभ हुआ. इस संदर्भ में तत्कालीन जिलाधिकारी अनूपकुमार श्रीवास्तव एवं पुलिस अधीक्षक देवेन भारती ने बार को बंद करवा दिया था. लेकिन संचालक ने न्यायालय से स्टे लेकर अपना कामकाज जारी रखा. इस संदर्भ में परिसर की महिलाओं द्वारा बार-बार आंदोलन कर हेवन बार को बंद करवाने का प्रयास किया गया. लेकिन उन्हें सफलता नहीं मिली. लेकिन आज महिलाओने बार को बहारसे बंद कर दीया था. इसलिए अंदर बैठे लोगोको बाहर आना मुश्किल हो गया था. और अंदर जाना भी संभव नही था.

दौरान प्रभाग की पार्षद गीतांजली शेगोकार के नेतृत्व में जिलाधिकारी तथा रामदास पेठ पुलिस थाने को लिखीत शिकायत देकर बीयर बार बंद करवाने की बिनती की थी. लेकिन कोई कार्रवाई न होने के कारण आज सायंकाल से शुभांगी दोडके, करूणा घुरे, पूजा बाफना, विद्या देशमुख, रोशनी बाफना, स्वीटी जैन, जया बाफना, अरूणा टोमे, शोभा गोतमारे, उषा बाफना, राजश्री दोडके, स्नेहा दोडके, शुभांगी दोडके, निलीमा दोडके, अमृता दोडके, सुनंदा कीर्तने, संगीता तापडिया, गीता प्रधान, ललीता चांदुरकर, नीता पटेल, स्नेहा पटेल, अनिता राजगुरे समेत महिलाओं ने बार के सामने उग्र प्रदर्शन किया.