क्या बागी कांग्रेसी नगरसेवक होंगे पार्टी से निलंबित ?

नागपुर – नागपुर महानगर पालिका के बाग़ी कांग्रेसी नगरसेवकों पर पार्टी ने कड़ी कार्रवाई किये जाने के संकेत दिए है। महाराष्ट्र प्रदेश कांग्रेस कमेटी द्वारा शहराध्यक्ष विकास ठाकरे को भेजे गए पत्र में पार्टी से बगावत कर अलग गुट बनाने वाले नगरसेवकों पर कार्रवाई किये जाने की बात कही गई है। पार्टी से यह पत्र प्राप्त हो जाने के बाद शहर कांग्रेस कमिटी फ़िलहाल वकीलों से क़ानूनी सलाह ले रही है जिससे की वह मजबूती के साथ अपनी कार्रवाई को अंजाम दे सके।

प्राप्त जानकारी के अनुसार गुरुवार को सभी बागी नगरसेवकों को 15 दिन का कारण बताओ नोटिस जारी किया जाएगा। इस दौरान अगर पार्टी को संतोषकारक जवाब नहीं मिलता है तो बागियों पर पार्टी से निलंबन की गाज भी गिर सकती है। पार्टी की अंदरूनी कलह का मामला अदालत तक पहुँच गया था जिस वजह से पार्टी अब संभल कर कदम उठा रही है। इसके पीछे की वजह है की अगर बागी फिर इस आदेश के ख़िलाफ़ अदालत गए तो वहाँ मजबूती से पक्ष रखा जा सके।

Advertisement
Advertisement

पार्टी के शहराध्यक्ष विकास ठाकरे ने गुरुवार को नोटिस जारी किये जाने की जानकारी देते हुए कहाँ की कई दावेदारियों के बीच पार्टी ने किसी एक उपयुक्त को अपना अधिकृत उम्मीदवार बनाया था। जिन्होंने पार्टी से बगावत की वह कांग्रेस के चुनाव चिन्ह पर ही विजयी हुए इसलिए वह कांग्रेस के ही नगरसेवक है। पार्टी हाईकमान बागियों के रुख पर नाराज है इसीलिए उन्हें उचित कार्रवाई किये जाने के निर्देश दिए गए है।

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Advertisement
Advertisement
 

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement