Published On : Wed, Apr 1st, 2015

वरूड : अवैध यातायात को कौन रोकेंगा?

नागरिकों का पुलिस से सवाल

Traffic
वरूड (अमरावती)। एक तरफ मोटरसायकल चालकों पर नियमों की सख्ती की जाती है. और दूसरी ओर तीन पहिया अॉटो और काली-पीली टैक्सी में अवैध तरीके से यातायात हो रही है. इसकी ओर किसी का ध्यान नही है. यातायात पुलिस भी इसकी ओर अनदेखी करती है ऐसी चर्चा शहर में शुरू है. फिर भी थानेदार ने ये प्रकार रोकना चाहिए ऐसी मांग तालुका के नागरिक कर रहे है. वरूड से मोर्शी मार्ग पर चलने वाली काली-पीली टैक्सी ये वरूड, बेनोडा और मोर्शी पुलिस स्टेशन के सीमा में आता है. जिससे तीनों पुलिस स्टेशन ने सामूहिक कार्रवाई करने पर अवैध यातायात पर अंकुश लगेंगा. लेकिन ये करेगा कौन ऐसा प्रश्न निर्माण हो रहा है.

शहर में दुपहिया और चौपहिया वाहनों की भीड़ बढ़ गई है. यातायात पर नियंत्रण रखने के लिए पुलिस और आरटीओ को सफलता हाथ नहीं रही है. पार्किंग की समस्या शहर में है. इन सभी बातों को आरटीओ और यातायात पुलिस विभाग ने सोचना चाहिए. एक ओर मोटरसायकल चालकों पर नियमों की सख्ती और दूसरी ओर तीन पहिया अॉटो और काली-पीली टैक्सी में अवैध यातायात का आरोप नागरिक कर रहे है. शहर के दुपहिया चालकों पर जिस तरह कार्रवाई की जाती है उसीप्रकार तीन पहिया ऑटो और वरूड से मोर्शी मार्ग पर चलने वाली काली-पीली टैक्सी चालकों पर भी कार्रवाई करे तथा तालुका के अवैध यातायात पुलिस बंद करे ऐसी भी मांग उठ रही है. अवैध यातायात को नियंत्रण में करने के लिए जल्द से जल्द उपाय योजना करने का आश्वासन पुलिस नागरिकों को दे. अन्यथा होने वाले परिणाम को भुगतने की तैयारी पुलिस रखे ऐसा नागरिक कहना है.