Published On : Wed, Apr 1st, 2015

बुलढाणा : येलगाव बांध में बेटी सहित माँ ने की आत्महत्या


सुरक्षा गार्ड ने एक बेटी को बचाया

Suicide in yelgao Dam
बुलढाणा। घर के मामूली कारण को लेकर एक महिला ने अपनी दो बेटियों समेत आत्महत्या करने का प्रयास किया. उसमें से एक बेटी को बचाने में सुरक्षा गार्ड को सफलता हात लगी है. वहीं दूसरी ओर उक्त महिला की बेटी समेत पानी में डूबकर मौत हो गई. यह घटना बुधवार दोपहर 2:30 बजे के करीब येलगाव बांध परिसर में घटी. इस घटना से परिसर में खलबली मच गई है.

प्राप्त जानकारी के अनुसार चांडक ले आऊट परिसर निवासी अतुल विक्रम मोरे पुलिस विभाग में कार्यरत है. कुछ दिन पूर्व मोरे की नागपूर से बुलढाणा पुलिस मुख्यालय में तबादला हुआ था. आज दोपहर दो बजे के करीब उनकी पत्नी सरला मोरे (30) शिवन क्लास जा रही कहकर घर से निकली. इस दौरान वह अपनी छह वर्षीय सृष्टी व तीन वर्षीय श्रावस्ती को साथ ले गई. लेकिन शिवन क्लास में न जाते हुए आत्महत्या करने के उद्देश से येलगाव बांध पर गई. इस दौरान उसने दोनों बेटियों को पीठ पर बांधा और वह पानी में कूद गई. बेटी समेत माँ बांध में कूद गई ऐसा ध्यान में आते ही वहां कार्यरत सुरक्षा गार्ड राहूल बाजारे घटनास्थल पर पहुंचे तथा तीन वर्षीय श्रावस्ती को हांथ से खींचकर बचा लिया. लेकिन माँ सरला व छह वर्षीय सृष्टी की डूबकर मौत हो गई. इस घटना की जानकारी शहर पुलिस को दी गई. जानकारी मिलते ही पुलिस घटनास्थल पर पहुंची तथा माँ बेटी का शव बाहर निकाला. उसके बाद दोनों शव पोस्टमार्टम के लिए जिल्हा सामान्य रुग्णालयात में भेज दिए.

इस दौरान घटनास्थल पर लोगों की काफी भीड़ जमा हुई थी. खबर लिखे जाने तक शहर पुलिस थाने में कार्रवाई की प्रक्रिया शुरू थी. महिला ने बेटियों समेत आत्महत्या क्यों की? इसका कारण पता नहीं चला है.