Published On : Fri, May 17th, 2019

क्या वाकई पीने का पानी घर में लगी हुई टंकी से आता है? सुनीये सचिन द्रवेकर की जुबानी

नागपुर: पानी कहा से आता है. अगर किसी से भी यह सवाल पूछेंगे तो वो यही कहेगा कि नल से या फिर उसके घर में लगी हुई पानी की टंकी से. लेकिन नल तक पहुंचने में उस पानी पर कितनी प्रक्रिया होती है और उसके बाद वह पानी नल में पहुँचता है.

यह जानने और समझने का प्रयास ‘नागपुर टुडे ‘ की टीम ने किया. नागपुर शहर में पानी सप्लाई करनेवाली कंपनी ‘ ऑरेंज सिटी वाटर वर्क्स लिमिटेड ‘ ओसीडब्ल्यू के जनसम्पर्क अधिकारी सचिन द्रवेकर ने गोरेवाड़ा स्थित वाटर ट्रीटमेंट प्लांट में हमसे चर्चा की.

उन्होंने बताया कि तोतलाडोह से पानी आता है और नवेगांव खैरी के बफर डैम में जमा होता है. पाइपलाइन के माध्यम से उस पानी को यहां के प्रेशर टैंक में लाया जाता है. उसके बाद पानी गोरेवाड़ा के ट्रीटमेंट प्लांट में आता है. इस दौरान उन्होंने पिने के पानी का सदुपयोग के बारे में भी जानकारी दी.