Published On : Thu, Jun 18th, 2015

वड़की : खड़की नाले में बाढ़: 1 की मौत, 8 बाल-बाल बचे

18.YTPH-010
वड़की (यवतमाल)। वड़की में कल रात 10 बजे तूफानी वर्षा होने से आयी बाढ़ में खड़की नाले में वड़की परिसर में 17 जुन की रात्री 10 बजे के दौरान तेज वर्षा होने से नाले में बाढ़ आ गई. वड़की से 3 कि.मी. दूर  खड़की नाले को आयी बाढ़ में दुपहिया समेत आकाश भगत (24) और धीरज मानकर बह गए. जिसमें आकाश की मौत हो गई तो धीरज बाहर निकल आया. दोनों देवली के लक्ष्मी माता लोहा कंपनी में कामगार है. वे कल रात  दुपहिया क्र. एम.एच.29/एबी-8976 से रालेगाव से होते हुए खड़की जा रहें थे. पुलिया से  गुजरते समय पानी का अंदाजा नहीं आने से उन्होंने गाड़ी बाढ़ में डाल दी. जिससे वे बह गए. कैसे-तैसे धीरज बाहर निकल आया तो उसका मित्र आकाश नाले की बाढ़ में बह गया और उसकी मौत हो गई.

बाल-बाल बचे 8 लोग
वड़की के व्यापारी गावंडे स्विप्ट डिझायर चालक ने एम.एच.29/एआर-0421 यह गाड़ी लेकर घटनास्थल जजा रहा था. तब वड़की के पास के दूसरे नाले को पार करते समय यह गाड़ी 200 मीटर तक बहके गई और झाड़ीयों में जा अटकी. इस गाड़ी में सवार 7 युवकों के साथ चालक ने कैसे-तैसे कांच फोड़कर बाहर निकले. यह गाड़ी अगर बाढ़ में पलट गई रहती तो आठों की मौत हो गई होती.

18.YTPH-012
बचे लोगों में दिलीप केराम (27), विक्की केराम (18), राहुल केराम (20), अमजद पठान (27), पवन पेन्दोर (18), गाड़ी चालक प्रफुल जंगीलवार (40) सभी वड़की निवासी और पप्पू सरोदे (24) मंगी निवासी शामिल है. मृतक आकाश भगत को खोजने के लिए यहां के थानेदार मालवे और पुलिस दल के साथ रातभर लगे हुए मृतक और उसकी दुपहिया नहीं दिखाई दी. जिससे आज सुबह मृतक की दुपहिया नाले के पत्थरों में अटकी हुई दिखाई्र दी और दुपहिया से 2 कि.मी. दूरी पर मृतक आकाश भगत की लाश पानी में तैरती हुई दिखी. पुलिस घटनास्थल का पंचनामा कर लाश को पोस्टमार्टंम के लिए रालेगाव के शासकीय अस्पताल में भेज दिया. बताया जा रहा है कि वड़की से रालेगाव राज्यमार्ग पर कई जगहों पर पुलिया की उंचाई नहीं होने बाढ़ में बहकर जाने की घटना घटी है.
18.YTPH-011