Published On : Thu, Mar 30th, 2017

संघर्ष यात्रा पर सवाल उठाकर सरकार मुद्दे से ध्यान भटका रही है – विखे पाटील


नागपुर:
किसानों की क़र्ज़माफ़ी के लिए विपक्षी दलों द्वारा निकाली गई संघर्ष यात्रा शुक्रवार को नागपुर पहुँची। इस दौरान बुटीबोरी और कोंढाली में सभा का भी आयोजन किया। यात्रा का मार्ग शहर की स ये यात्रा ग़लत नहीं बाहरी सीमा से गुज़रने का तय था लेकिन इसी बीच ऐन वक्त पर शहर में प्रदर्शन का कार्यक्रम बना। इस दौरान नागपुर के वेरायटी चौक में सरकार के ख़िलाफ़ प्रदर्शन किया गया। राज्य में लगातार हो रही किसान आत्महत्या के लिए विपक्ष सरकार को जिम्मेदार ठहरा रहा है। सरकार की इसी नाकामी को जनता तक पहुँचाने और किसानों के लिए कर्ज माफ़ी के लिए यह संघर्ष यात्रा निकाली गई है। वेरायटी चौक में आयोजित विरोध प्रदर्शन कार्यक्रम में विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष राधाकृष्ण विखेपाटिल ने भी भाग लिया।

प्रदर्शन में शामिल कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए विखेपाटील ने कहाँ सरकार की नाकामियो की वजह से किसान परेशान होकर आत्महत्या कर रहा है। किसानों की समस्या सत्ताधारियों के लिए सिर्फ चुनावी मुद्दा है। प्रधानमंत्री जहाँ चुनाव प्रचार के लिए जाते है वहाँ कर्ज माफ़ी का वादा करते है लेकिन जहाँ उनकी पार्टी की सरकार है उन राज्यो में उनकी पार्टी खामोश हो जाती है। उन्होंने कहाँ विपक्ष द्वारा किसानों के लिए निकाली गई संघर्ष यात्रा के मुद्दे को भटकाने का काम सत्ताधारियों द्वारा किया जा रहा है।

यात्रा में एसी बस के इस्तेमाल को मुद्दा बनाया गया है। यह मूल मुद्दे से ध्यान भटकाने का प्रयास है यह यात्रा किसानों को न्याय मिलने तक संघर्ष करती रहेगी। सुविधायुक्त संघर्ष यात्रा पर उठ रहे सवालों के बीच विखेपाटील ने सवाल उठाते हुए कहाँ की जब मुख्यमंत्री मराठवाड़ा में अकाल का दौरा करने गए थे तक क्या वे एसटी महामंडल की बस से गए थे उन्होंने भी तो सरकार के एसी वाहन का ही इस्तेमाल किया था न ?

इस प्रदर्शन के दौरान विखेपाटील के साथ,जितेंद्र आव्हाड ,सुनील केदार ,गोपाल अग्रवाल ,सजेत पाटिल के साथ अन्य नेता उपस्थित थे।