Published On : Thu, Mar 12th, 2020

वीडियो : एमएसईडीसीएल और एसएनडीएल कंपनी ने ली जान लेने की कोशिश

प्रभाकर नवखरे का आरोप

नागपुर– एमएसईडीसीएल और एसएनडीएल कंपनी के खिलाफ 2013,14 से नागरिक जनकल्याण समस्या निवारण समिति के अध्यक्ष प्रभाकर नवखरे फर्जी मीटर लगाने के और ग्राहकों को लूटने के खिलाफ कानूनन लड़ाई लड़ रहे है.

नवखरे का आरोप है की विवादित मीटर के खिलाफ इन्हे कई बार एसएनडीएल कंपनी की ओर से धमकी भी दी गई थी. लेकिन पिछले महीने 24 फरवरी को मेडीकल चौक में इनके वाहन को दूसरे वाहन ने टक्कर मार दी और वाहनचालक घटनास्थल से फरार हो गया.

इसमें प्रभाकर नवघरे को काफी चोटे आयी. इसके बाद इन्हे मेडीकल हॉस्पिटल में ले जाया गया और वहां से इलाज करके घर लौट आए. नवघरे ने शक जताया है की यह एक्सीडेंट एसएनडीएल और एमएसईडीसीएल कंपनी की ओर से किया गया है. इस बारे में वे एसएनडीएल और एमएसईडीसीएल के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज करवाने इमामवाड़ा पुलिस स्टेशन भी गए. लेकिन वहां इनकी शिकायत नहीं ली गई. इसके बाद इन्होने पुलिस स्टेशन में बाइपोस्ट शिकायत भेजी है.


प्रभाकर नवघरे ने इस बारे में ‘ नागपुर टुडे ‘ को जानकारी दी. नवघरे ने इसकी लिखित शिकायत महाराष्ट्र राज्य विघुत वितरण कंपनी के मुख्य अभियंता घुगल से भी की है. नवघरे ने कहा की 2015 में भी एसएनडीएल के एक अधिकारी द्वारा उन्हें जान से मारने की धमकी दी गई थी.

इसके खिलाफ उन्होंने सदर पुलिस स्टेशन में शिकायत भी दर्ज करवाई थी. मेडिकल चौक में हुई इस दुर्घटना से नवघरे को ससिर पर मार भी लगा है. उन्होंने इस मामले की जांच की मांग की है.