Published On : Fri, Sep 22nd, 2017

Video: कार्यक्रम में न बुलाये जाने से नाराज सेना सांसद कृपाल तुमाने संसद में देंगे विशेषाधिकार हनन का नोटिस

नागपुर : रामटेक से लोकसभा सांसद कृपाल तुमाने महाराष्ट्र सरकार के ख़िलाफ़ संसद में विशेषाधिकार हनन का नोटिस देंगे। शुक्रवार को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के कार्यक्रम में आमंत्रित नहीं किये जाने से आहत तुमाने ने यह फैसला लिए जाने की जानकारी दी है। दरअसल महामहिम शुक्रवार को नागपुर दौरे पर थे। इस दौरान तुमाने के संसदीय क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले कामठी इलाके में स्थित ड्रेगन पैलेस में राज्य सरकार द्वारा निर्मित विपस्सना केंद्र का उद्घाटन राष्ट्रपति के हस्ते किया गया। लेकिन इस कार्यक्रम के लिए न तो इलाके के सांसद को निमंत्रण दिया गया और न ही कार्यक्रम की पत्रिका में उनका नाम ही प्रकाशित किया गया। इस मसले पर तुमाने का कहना है की सुबह उन्होंने नागपुर एयरपोर्ट पर प्रोटोकॉल के अनुसार राष्ट्रपति का स्वागत किया। इसके बाद वह अपने संसदीय क्षेत्र चले गए। यह कार्यक्रम किसी निजी संस्था का न होकर राज्य सरकार का था। कार्यक्रम पत्रिका में बाकायदा राज्य के सामाजिक न्याय मंत्रालय का नाम अंकित है।


सांसद कृपाल तुमाने के मुताबिक सरकार का यह रवैय्या जनप्रतिनिधि के अपमान जैसा है इसलिए वह इसकी शिकायत संसद के आगामी सत्र में लोकसभा अध्यक्षा से करेंगे और सांसद में विशेषाधिकार हनन का नोटिस देंगे। उन्हें उम्मीद थी की शायद कार्यक्रम के चंद मिनट पहले उन्हें आमंत्रण मिल जाये इसलिए वह अपने संसदीय क्षेत्र में पहुँच गए थे। लेकिन ऐसा हुआ नहीं। तुमाने ने साफ़ किया की उनके बीजेपी के स्थानीय नेताओं से मधुर सबंध है इसलिए वह निजी कार्यक्रमों में भी जाते रहे है पर ऐसा पहली बार हुआ है।

देखे खुद के साथ हुए व्यवहार पर सांसद कृपाल तुमाने ने क्या कहाँ
इस कार्यक्रम में शिवसेना के सांसद को निमंत्रण ही न मिल पाना कई तरह के सवाल खड़ा करता है। इस मसले को राज्य और केंद्र में बीजेपी – सेना में बढ़ रही तल्ख़ी के तौर पर भी देखा जा रहा है। क्यूँकि प्रोटोकॉल के हिसाब से किसी सरकारी कार्यक्रम की पत्रिका में राज्यसभा सांसद से पहले लोकसभा सांसद का नाम छापा जाता है। आये दिन होने वाले सरकारी कार्यक्रमों के दौरान एक विशेष में इलाके के ही सांसद को आमंत्रित ही न करना सामान्य बात और सामान्य गलती तो नहीं ही है।