Published On : Wed, Sep 23rd, 2020

Video : गोंदिया में 3 युवकों की डूबने से मौत

देवरी के धोबीसराड़ नाले पर 5 दोस्त नहाने गए थे

गोंदिया– इसे उम्र का अल्हड़पन ही कहें कि जाना था जंगल में पशु चारा इकट्ठा करने लेकिन पहुंच गए धोबीसराड़ नाले पर।कल-कल बहती धारा को देख वे खुद को रोक नहीं पाए और 5 दोस्तों को नहाने की सूझी लेकिन नियति को कुछ और ही मंजूर था 3 की डूबने से मृत्यु हो गई जबकि 2 भाग्यशाली रहे जिन्हें पानी के तेज बहाव में बहने से बचा लिया गया ।

अब धोबीसराड गांव के तीन घरों का चिराग बुझ जाने से यहां मातम पसरा है।

वो कहते हैं ना तैराकी का हुनर न होने पर नदी-नालों के पानी में नहाने के लिए उतरना किसी खतरे से खाली नहीं और एैसे में कभी-कभी अतिउत्साह जानलेवा भी बन जाता है।

हृदयविदारक घटना देवरी तहसील के धोबीसराड़ नाले पर बुधवार 23 सितंबर के सुबह 11 बजे घटित हुई।

पुलिस सूत्रों ने जानकारी देते बताया, धोबीसराड़ निवासी 5 युवक आज बुधवार 23 सितंबर के सुबह घर के मवेशियों के लिए चारा लाने के लिए घर से निकले थे, इसी दौरान गांव के नाले के समीप पहुंचने पर युवकों को नहाने की सुझी और वे गहरे पानी में नहाने उतर गए।

नहाते वक्त अचानक एक युवक का संतुलन बिगड़ गया और वह डूबने लगा जिसे बचाने के लिए अन्य साथी युवक भी नाले में कूद गया और उसे बचाने के लिए दुसरे युवक भी प्रयास में जुट गए और चीख-पुकार शुरू हो गई। आस पास मौजूद लोगों ने 2 युवकों – आदित्य ओमप्रकाश गौतम (15) तथा राहुल नितराम पटले (18) को जैसे-तैसे बचा लिया लेकिन 3 युवक- सावन सिताराम पटले (22), अतुल माणिकचंद ठाकुर (16) तथा संदीप सोमराज कटरे (22) यह गहरे पानी में समा गए।

देवरी के उपविभागीय पुलिस अधिकारी प्रशांत ढोले, , पोनि कमलेश बच्छाव , एपीआई कदम मौके पर पहुंचे और तत्काल जानकारी जिला शोध बचाओ पथक को दी गई। आखिरकार जिला आपदा प्रबंधन टीम के जवानों द्वारा सफल रेस्क्यू ऑपरेशन चलाकर शाम 5 बजे तक नाले में डूबे तीनों युवकों के शव निकाल लिए गए।

बताया जाता है कि इस इलाके में गत 2 दिनों से कभी हल्की तो कभी मध्यम बारिश हो रही थी जिससे नदी नाले उफान पर बह रहे थे बावजूद इसके धोबीसराड़ निवासी 5 युवकों को नाले पर जाकर नहाने की सूझी , जिसकी परिणीति हृदय विदारक घटना के रूप में सामने आई है।

मामले की आगे की जांच में पुलिस जुटी है।

रवि आर्य