Published On : Sat, Aug 12th, 2017

सरकार के सहयोग से गौरक्षक नियुक्त करने की तैयारी में विहिप

नागपुर: गौरक्षा के नाम पर होने वाली हिंसा पर रोक लगाने के लिए विश्व हिंदू परिषद ने अधिकृत गौरक्षकों की नियुक्ति की योजना बनायीं है। विहिप ने राज्य सरकार से पुलिस मित्र की ही तरह गोरक्षकों की नियुक्ति करने का प्रस्ताव दिया है। इसी सिलसिले में मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के साथ तीन मर्तबा विहिप नेताओं की बैठक भी हो चुकी है।

विहिप द्वारा शनिवार को आयोजित पत्रकार परिषद में विदर्भ प्रांत के मंत्री अजय नीलदावर ने जानकारी देते हुए बताया की विहिप सिर्फ़ गौरक्षा का काम करती है हिंसा का नहीं बीते दिनों कई ऐसी घटनाएं सामने आयी जिसमे विहिप के किसी कार्यकर्त्ता का सहभाग नहीं था बावजूद इसके गौरक्षा के नाम पर हुई हिंसाओं में संस्था का नाम घसीटा गया। गौरक्षा को लेकर विहिप लंबे समय से काम करता आया है इसलिए हमने अधिकृत गौरक्षकों की नियुक्ति की योजना बनाई है और इसमें सरकार से भी सहयोग माँगा गया है उन्होंने आशा जताई की सरकार उनकी माँग पर विचार करेगी। अजय ने कुछ विरोधी ताकतों द्वारा विहिप को बदनाम करने का भी आरोप लगाया।

Advertisement

विहिप के कार्यकर्ताओं के असामाजिक कार्य और वसूली करने के सामने आये मामलों पर विहिप ने स्पस्ट किया की उनका कोई कार्यकर्त्ता इस तरह के मामले में लिप्त नहीं है। बीते दौर में ऐसे कई मामले सामने आये थे जिसमे लोग विहिप से अपने स्वार्थ के साथ जुड़े थे पर ऐसे लोगो को अब बाहर का रास्ता दिखा दिया गया है।

विहिप निकालेंगी राम मंदिर मॉडल की झाँकी
श्रीकृष्ण जन्माष्ठमी के अवसर पर विश्व हिंदू परिषद द्वारा निकली जाने वाली शोभायात्रा में अयोध्या में प्रस्तावित राम मंदिर की झाँकी निकालेगी। विहिप ने दावा किया की आगामी दो वर्षो के भीतर अयोध्या में रामजन्म भूमि पर भव्य राम मंदिर बनकर तैयार हो जायेगा। इस मंदिर का मॉडल विहिप द्वारा पहले ही तैयार किया जा चुका है। शोभायात्रा के दौरान प्रस्तावित राम मंदिर की झाँकी प्रस्तुत की जाएगी।

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

Advertisement
Advertisement
Advertisement

 

Advertisement
Advertisement
Advertisement