Published On : Tue, Jan 23rd, 2018

गड़करी के पास है दिल्ली के दर्द की दवा, राजधानी को प्रदुषण मुक्त बनाने नागपुर पैटर्न का होगा उपयोग


नागपुर: दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल दो दिन के नागपुर दौरे पर पहुँच रहे है। इस दौरे का मकसद नागपुर में शुरू विकास कामों का अध्ययन करने के ही साथ पर्यावरण के संरक्षण के लिए अपनाए गए तरीकों की जानकारी भी लेना है। देश की राजधानी दिल्ली प्रदुषण से घिरी हुई है। दिल्ली की आबोहवा में सबसे ज्यादा मिलावट कार्बन उत्त्सर्जन की वजह से है। नागपुर देश के उन चुनिंदा शहरों में से एक है जिसने विभिन्न माध्यमों से होने वाले प्रदुषण को नियंत्रित करने के लिए कई कदम उठाए है। शहर में कई प्रोजेक्ट केंद्रीय मंत्री नितिन गड़करी की देन है। शहर में शुरू विभिन्न योजनाओं की जानकारी गड़करी ने देश भर में दी।

सीवरेज वॉटर को रिसायकल कर उसे बिजली बनाने वाली कंपनी को बेचना हो या मेट्रो रेल जैसे प्रोजेक्ट को ग्रीन मेट्रो की तर्ज पर विकसित करना हो इसके पीछे दिमाग नितिन गड़करी का ही है। प्रदुषण का दंश झेल रही दिल्ली को नागपुर में शुरू प्रोजेक्ट मुश्किल हालत से उबार सकते है। हो सकता है की भविष्य में नागपुर में प्रदुषण के नियंत्रण के लिए अपनाए गए तरीके देश की राजधानी में भी इस्तेमाल किये जाये। इन्ही प्रोजेक्ट की जानकारी लेने के लिए दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल नागपुर पहुँच रहे है।

नागपुर के सांसद और केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गड़करी ने अपने शहर में खुद कई प्रयोग किये है। भविष्य में प्रदुषणमुक्त परिवहन व्यवस्था का सपना देखने वाले गड़करी ने वैकल्पिक परिवहन प्रणाली के तहत अपने शहर में ग्रीन बस और ग्रीन टैक्सी सेवा को शुरू करवाया। दिल्ली में सबसे ज्यादा प्रदुषण वाहनों की वजह से होता है अगर दिल्ली के मुख्यमंत्री अपने राज्य में प्रदुषण रहित वैकल्पिक परिवहन व्यवस्था को लागू कर देते है तो वहाँ प्रदुषण की समस्या में काफ़ी हद तक रोक लग सकती है। बीते दिनों दिल्ली में एक कार्यक्रम के दौरान नितिन गड़करी और केजरीवाल की मुलाकात हुई थी। इस दौरान दोनों के बीच देश की राजधानी में प्रदुषण की समस्या पर चर्चा हुई। इसी दौरान गड़करी ने केजरीवाल को नागपुर में शुरू प्रोजेक्ट का अध्ययन करने का निमंत्रण दिया था जिसे स्वीकार कर केजरीवाल नागपुर आ रहे है।

आगामी 27,28 जनवरी को अपने दो दिवसीय दौरे के तहत दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल नागपुर में होंगे। इस दौरान वह शहर में हो चुके और वर्त्तमान में शुरू विकासकार्यो का अवलोकन करेंगे।अपने दौरे के दरमियान केजरीवाल मेट्रो रेल्वे, ई-चार्जिंग स्टेशन, राष्ट्रीय महामार्ग से जुड़े प्रोजेक्ट की जानकारी एकत्रित करेंगे। इस दौरे को लेकर जिला प्रशासन और नागपुर महानगर पालिका को अधिकृत तौर पर सूचना दे दी गई है। केजरीवाल नागपुर एयरपोर्ट पर ई-चार्जिंग स्टेशन, शहर में दौड़ रही इलेक्ट्रिक टॅक्सी और ग्रीन बस के परिचालन की भी जानकारी लेंगे।

दौरे के दूसरे दिन केजरीवाल भांडेवाडी स्थित सीवरेज वॉटर ट्रीटमेंट प्लांट जाएंगे जहाँ मनपा आयुक्त अश्विन मुदगल उन्हें 24 बाय 7 जलापूर्ति योजना की जानकारी भी देंगे। नागपुर में मेट्रो का काम तेज गति से शुरू है। नागपुर मेट्रो को देश की पहली ग्रीन मेट्रो रेल परियोजना के तहत साकार किया जा रहा है। इसी परियोजन की जानकारी देते हुए मेट्रो के एमडी बृजेश दीक्षित दिल्ली के मुख्यमंत्री के सामने परियोजना का प्रेजेंटेशन देंगे।