Published On : Thu, May 2nd, 2019

यूआरसी-1 की विशेष सभा का हुआ आयोजन, घर से स्कूल की दुरी पर भी राष्ट्रीय बाल आयोग ने लिया संज्ञान

नागपुर- आरटीई के अंतर्गत गुरुवार को यूआरसी- 1 की विशेष सभा का आयोजन किया गया था. जिसमे विद्यार्थियों के लिए मुफ़्त शिक्षा के अधिकार अंतर्गत विभिन्न मुद्दों पर विशेष निर्णय लिए गए. इन निर्णयों में मनोज नामक बंद पड़ी स्कूल के विषय में एडमिट कार्ड को स्वीकार न करने पर शिक्षा अधिकारी कार्यालय करेगा कार्रवाई, विशेष चाइल्ड का एडमिट कार्ड स्वीकार न करने पर होगी कार्रवाई, एससी /एसटी पालकों से इनकम का दाख़िला माँगना नियम का उल्लंघन रहेगा, दस्तावेजों के संदर्भ में प्रतिज्ञापत्र नही माँग सकती स्कूलें, 600 पालक ने अभी भी एडमिशन क्लेम नहीं किया है.

अभिभावकों को अभी भी उनका नंबर आरटीई के अंतर्गत लगने की जानकारी नहीं है मोबाइल के मेसेज आज देखकर कई पालक कार्यालय पहुँचे 4 मई तक अन्क्लेम लॉटरी एडमिशन निरस्त नहीं किए जाएंगे, स्कूल द्वारा धमकी देने बाबत प्रतिज्ञा पत्र देने संदर्भ, सिंगल मदर जिनके मामले पारिवारिक न्यायालयीन व पति लापता है, परिवार से अलग रह कर अपना जीवन व्यतीत कर रही ऐसी महिलाओ जिनके पास बच्चे की कस्टडी है. इस संदर्भ में भी निर्णय लिए गए और उन्हें एडमिट कार्ड दिया गया.

आरटीई एक्शन कमेटी के चेयरमैन शाहिद शरीफ ने बताया कि जिन अभिभावकों को नंबर लगने के बाद भी एसएमएस नहीं आए या उन्होंने नहीं देखे ऐसे अभिभावक वेबसाइट में जाकर अपना नाम चेक करे. इस दौरान बैठक में उप शिक्षा अधिकारी भास्कर झोड़े, विजय कोकोडे विस्तार अधिकारी, वेरीफिकेशन इफ़्तिख़ार ख़ान, मनोज शर्मा, प्रेमचंद राउत, मनीषा सोनटक्के की उपस्थिति में निर्णय लिए गए.