Published On : Tue, Apr 24th, 2018

अनुसूचित जनजाति के विद्यार्थियों के लिए नागपुर यूनिवर्सिटी में यूपीएससी सेंटर शुरू

Nagpur University

नागपुर: नागपुर यूनिवर्सिटी में आदिवासी संशोधन व प्रशिक्षण संस्था पुणे की ओर से अनुसूचित जनजाति के विद्यार्थियों के लिए यूपीएससी का निशुल्क कोचिंग सेंटर शुरू किया गया है. पात्र विद्यार्थियों को 4 हजार रुपए प्रति महीना स्टायफंड भी दिया जाएगा. इच्छुक विद्यार्थियों को 25 अप्रैल तक परीक्षा के लिए आवेदन करना होगा. उसके बाद 27 अप्रैल को चुने गए विद्यार्थियों की सूची वेबसाइट पर अपलोड किया जाएगा और 29 अप्रैल को प्रवेश परीक्षा होगी.

इसमें पास होनेवाले विद्यार्थियों को यूपीएससी कोचिंग में प्रवेश दिया जाएगा. कुल मिलाकर 50 सीटें हैं अब तक करीब 60 आवेदन इस कोचिंग के लिए विभाग के पास पहुंच चुके है. इसमें महिला विद्यार्थियों के लिए 30 प्रतिशत आरक्षित सीटें है तो वहीं दिव्यांगों के लिए 3 प्रतिशत आरक्षित सीटें हैं. प्रवेश परीक्षा 100 मार्क्स की होगी और यूपीएससी के प्रिलिम्स के आधार पर प्रश्न आधारित होंगे. ग्रामीण भाग में रहनेवाले अनुसूचित जनजाति के विद्यार्थियों को इस उपक्रम का लाभ होगा ही साथ ही इसके शहरी भाग के जो विद्यार्थी यूपीएससी की महंगी ट्यूशन नहीं लगा सकते उन्हें भी इसका लाभ मिलेगा.

इस बारे में पूर्व परीक्षा प्रशिक्षण केंद्र के समन्यवयक डॉ. सत्यप्रिय इन्दुरवाडे ने जानकारी देते हुए बताया कि इसमें प्रवेश के लिए पूरे महाराष्ट्र से कोई भी अनुसूचित जनजाति का विद्यार्थी आवेदन कर सकता है. मई के पहले हफ्ते से क्लास शुरू होगी. उन्होंने बताया कि स्टायफंड के तौर पर विद्यार्थियों को 4 हजार रुपए दिए जाएंगे.