| | Contact: 8407908145 |
    Published On : Mon, Aug 31st, 2020

    कोरोना की स्थिति में यूनियन की सदस्यता मुहिम कल से शुरू

    – वेकोलि प्रबंधन का कामगार विरोधी निर्देश का विरोध किया इंटक ने ,हस्तक्षेप करने हेतु लिखा राज्य के मुख्यमंत्री,कोल इंडिया के अध्यक्ष,वेकोलि के अध्यक्ष सह प्रबंधक और मनपायुक्त को पत्र

    नागपुर/यवतमाल – कोरोना जैसी बीमारी में पिछले ८ महीने से देश की प्रशासन सह स्थानीय प्रशासन जूझ रहा,आम जनजीवन तहस-नहस हो गया.पिछले कुछ सप्ताह से कोरोना मरीजों की संख्या में काफी इजाफा हुआ,सरकारी व्यवस्था लड़खड़ा गई.ऐसे में वेकोलि प्रबंधन ने वेकोलि के वर्त्तमान में अधिकृत ३ यूनियन के प्रतिनिधियों को सदस्यता अभियान शुरू करने का निर्देश दिया।जिसका महाबल मिश्रा की अगुवाई वाली इंटक ने पुरजोर विरोध किया।इस सन्दर्भ में यूनियन ने वेकोलि प्रबंधन का जनविरोधी निर्देश का विरोध किया और हस्तक्षेप करने हेतु राज्य के मुख्यमंत्री,कोल इंडिया के अध्यक्ष,वेकोलि के अध्यक्ष सह प्रबंधक और मनपायुक्त को पत्र लिखा।

    उक्त इंटक के राष्ट्रीय सचिव आबिद हुसैन ज़ाहिद हुसैन ने वेकोलि के महाप्रबंधक को जानकारी दी कि कोरोना को लेकर केंद्र और राज्य सरकार सह स्थानीय प्रशासन ने समय- समय पर दिशा निर्देश जारी करती रही.जैसे सामूहिक इकठ्ठा न होना,दुरी बनाए रखने हेतु आदि आदि.वेकोलि प्रबंधन के आदेश पर कल १ सितंबर से वेकोलि की अधिकृत तीनों यूनियन की सदस्यता मुहिम शुरू होने जा रही.जिसके लिए वेकोलि प्रबंधन ने तीनों यूनियन प्रतिनिधियों की एक बैठक लेकर उन्हें निर्देश दिया था.सभी कामगारों को एक-एक आवेदन दिया जाएगा,जिसे भरकर उन्हें सम्बंधित अधिकारी को देना होगा।यह प्रक्रिया एक हाथ से दूसरे तक होगी।

    उक्त इंटक ने इससे कोरोना जैसी बीमारी को बल मिलने की आशंका जताई हैं.इस चक्कर में किसी कामगार या अधिकारी वर्ग का कोई नुकसान न हो इसलिए कल से शुरू होने वाली सदस्यता अभियान को रोक कोरोना ख़त्म होने के बाद शुरू करने की मांग की गई.इस इंटक ने उक्त विनंती उक्त तीनों यूनियन के नेतृत्वकर्ताओं से भी की हैं.इस संदर्भ में गंभीर दखल लेने हेतु राज्य के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे,कोल इंडिया के अध्यक्ष,वेकोलि के सीएमडी और नागपुर मनपा के आयुक्त निवेदन की गई हैं.

    Stay Updated : Download Our App
    Mo. 8407908145