Published On : Wed, Jun 27th, 2018

यूके निवेश सचिव का नागपुर दौरा, तलाशेंगे शहर में निवेश की संभावनाएं

mihan-building_700_0

नागपुर: नागपुर में निवेश की संभावनाओं से अवगत कराने के लिए नागपुर फर्स्ट नामक शहर की एनजीओ आगामी 29 जून को एक अहम कार्यक्रम का आयोजन करने जा रही है। मूलतः नागपुर से जुड़े प्रवासी उद्योगपतियों और देश भर में फैले नागपुर के लोगों की यह एनजीओ अपने शहर में निवेश को बढ़ाने के लिए लंबे समय से काम कर रही है।

यूरोप से अलग हो चुके यूनाईटेड किंगडम विश्व के उद्योगपतियों को अपने देश में निवेश का आमंत्रण दे रही इसी के तहत वहाँ के फर्स्ट सेकेट्री निवेश ( इन्वेस्टमेंट ) विलियम हॉप्किंसन 29 जून को नागपुर में होंगे। उनके इस एक दिवसीय दौरे में यूके के उद्योगपतियों का एक समूह भी होगा जो नागपुर में निवेश के अवसरों और परिस्थितियों का अवलोकन करेगा।

निवेश सचिव मिहान का भी दौरा करेगा। इस दौरान टाल ( टाटा ऐरोनॉटिकल लिमिटेड ) के साथ इंडो-यूके हॉस्पिटल के साथ अन्य प्रमुख कंपनियों में विजिट कर वह शुरू कामों का जायजा लेंगे। मिहान के अधिकारियो के साथ उनकी बैठक भी सुनिश्चित है जिसमे अधिकारी मिहान में सरकार द्वारा दी जाने वाली सुविधाओं की जानकारी उन्हें और उनके साथ आये बिजनेस डेलीगेट्स को देंगे। विलियम हॉप्किंसन मध्य भारत के प्रतिष्ठित इंजीनियरिंग कॉलेज वीएनएटी में स्टार्टटप ग्रुप मीटिंग करेंगे। इस मीटिंग में शहर के कई इंजिनयरिंग कॉलेज के पूर्व छात्र भी हिस्सा लेंगे।

विदर्भ के उद्योंगपतियो की संस्था विदर्भ इंड्रस्टियलिस्ट असोसिएशन के साथ भी यूके के निवेश सचिव की मीटिंग तय है। इस मीटिंग में शहर के प्रमुख उद्योगपतियों को आमंत्रित किया गया है। जिनके समक्ष यूके के निवेश सचिव अपने देश में उद्योग के लिए दी जाने वाली जानकारिया समझा करेंगे। साथ ही नागपुर में निवेश के अवसरों की जानकारी लेंगे। इसी मीटिंग के दौरान उनके साथ यूके से आये उद्योगपति स्थानीय उद्योगपतियों के साथ व्यापारिक चर्चा करेंगे।