Published On : Thu, Nov 21st, 2019

महाराष्ट्र में दो दिन के अंदर होगा सरकार पर फैसला, उद्धव ठाकरे बनेंगे मुख्यमंत्री- संजय राउत

नागपुर– महाराष्ट्र में दो दिन के अंदर सरकार पर फैसला हो जाएगा और शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे मुख्यमंत्री बनेंगे. ये कहना है शिवसेना के तेज तर्रार प्रवक्ता संजय राउत का. संजय राउत ने आज प्रेस कॉन्फ्रेंस करके कहा है कि जनता की इच्छा है कि राज्य का अगला मुख्यमंत्री शिवेसेना का हो. राउत ने दावा किया है कि शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस के साथ आने की प्रक्रिया ओर तेज हो गई है.

संजय राउत ने कहा है कि महाराष्ट्र में सरकार बनाना हमारा लक्ष्य है. एक दिसंबर से पहले सरकार बनाने की सभी प्रक्रिया पूरी कर ली जाएंगी. उन्होंने कहा है कि राज्य में अगली सरकार सिर्फ और सिर्फ शिवसेना के नेतृत्व में बनेगी. कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और शिव सेना प्रमुख उद्धव ठाकरे के बीच इस सप्ताह बैठक की कोई योजना नहीं है.

सूत्रों के मुताबिक, एनसीपी की शिवसेना के साथ ढाई-ढाई साल के मुख्यमंत्री पर सहमति बन सकती है और सहमति बन जाने के बाद शुरुआत के ढाई साल में शिवसेना का मुख्यमंत्री और बाद के ढाई साल के लिए एनसीपी का मुख्यमंत्री होगा.शरद पवार के आवास पर कांग्रेस और एनसीपी के वरिष्ठ नेताओं की बैठक के बाद महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री पृथ्वीराज चव्हाण ने कहा कि चर्चा सकारात्मक रही और जल्द ही नयी सरकार का गठन हो जाएगा.

राकांपा प्रवक्ता नवाब मलिक के साथ प्रेस कॉन्फ्रेंस में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता चव्हाण ने कहा कि चर्चा अभी एक-दो दिन और चलेगी. उन्होंने कहा कि जल्द ही तीनों पार्टियों की सरकार के गठन के बारे में घोषणा की जाएगी.

महाराष्ट्र में अब जल्द सरकार बनने के आसार दिखने लगे हैं, क्योंकि कांग्रेस और एनसीपी ने भी जल्द सरकार बनाने का दावा किया है. कांग्रेस और एनसीपी के वरिष्ठ नेताओं की मैराथन बैठक और सोनिया गांधी से हरी झंडी मिलने के बाद दोनों पार्टियों ने ऐलान किया कि वह जल्द ही राज्य में शिवसेना के साथ मिलकर नई सरकार का गठन करेगी. दोनों पार्टियों के नेता आज शाम फिर बैठक करने वाले हैं.

गौरतलब है कि 24 अक्टूबर को महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव के नतीजे आने के बाद से सरकार गठन को लेकर लगातार असमंजस की स्थिति बनी हुई है. चुनाव में बीजेपी-शिवसेना गठबंधन को बहुमत मिला था, लेकिन ढाई साल के लिए मुख्यमंत्री पद पर शिवसेना के दावे के बाद दोनों के रास्ते अलग हो गए.