Published On : Mon, Aug 7th, 2017

जाको राखे साइयां मार सके न कोय…


नागपुर:
कहा जाता है कि अगर जिसको भगवान न मारे उसे क्या कोई मार सकता है. यह कहावत सोमवार को नागपुर शहर के चौपाटी नाम से मशहूर फुटाला तालाब परिसर में चरितार्थ हुई। जब एक कार सवार तेज गति से आती हुई चौपाटी से लगी दीवार जा टकराई और देखते ही देखते पलटियां खाते हुए चौपाटी के वॉकिंग लेन पर जा गिरी। इस हादसे की कार को देखनेवालों ने कार में सवार लोगों के जिंदा बचने की उम्मीदें छोड़ दी थीं। लेकिन कहते हैं ना, ‘जाकों राखे साइयां मार सके ना कोई’, इस कहावत की तर्ज पर ही कार में सवाल सब सही सलामत बच निकले।

सूत्रों के अनुसार सोमवार सुबह करीब 6 बजे वायुसेना नगर से फुटाला तालाब की ओर तेज गति से i 20 कार आ रही थी। कार की रफ़्तार तेज रहने से कार चालाक का कार से संतुलन छूट गया। जिससे कार फुटाला तालाब की सड़क किनारे बनी दीवार से जा टकराई और नीचे वॉकिंग लेन में जा गिरी। किसी ने पुलिस कंट्रोल रूम को इस घटना की सुचना दी। जिसके बाद अंबाझरी पुलिस घटना स्थल पर पहुंच गई। घटना का जायजा लेने के बाद पता चला कि सफ़ेद कलर की i 20 कार क्रमांक -MH 40 BE 4597 अरविंद भाजीपाले की है। उनका बेटा विशेष अरविंद भाजीपाले (उम्र 20 साल) जूना सुभेदार ले आऊट नागपुर रहिवासी है। अरविंद का मित्र वडेकर नगर मानेवाड़ा निवासी ऋषभ नरेंद्र म्हैसकर उम्र 22 साल यह इंजीनियरिंग का छात्र है।


पुलिस सूत्रों से मिमली जानकारी अनुसार ऋषभ ने सुबह घूमने के बाहने से विशेष भाजीपाले को फुटाला तालाब के पास लेकर पहुंचा। वहां ऋषभ ने विशेष से गाड़ी चलाने की जिद की। जिससे विशेष ने ऋषभ को कार चलाने दे दी और खुद ड्रायविंग सीट के साथ वाली सीट पर बैठ गया। ऋषभ को कार चलाना आती थी लेकिन ऋषभ कार चलाने में माहीर नहीं था।


फुटाला की तरफ जब कार आ रही थी तब ऋषभ ने ब्रेक दबाने की जगह एक्सलेटर दबा दिया जिससे कार की रफ़्तार और तेज हो गई और दीवार से जा टकराई। यदि कार की रफ्तार और तेज होती तो कार सीधे तालाब में जा गिरती। और बड़ा हादसा हो जाता। लेकिन फिर भी इतना बड़ा हादसा होने के बाद भी विशेष और कार चालाक ऋषभ को मामूली सी भी खरोच नहीं आई है।


सूत्रों के अनुसार कार को पुलिस के क्रेन की मदत से बाहर निकाला। पुलिस ने मामले की जांच शुरू की है। बड़ी अनहोनी टलने के कारण फिलहाल पुलिस ने मामले की स्टेशन डायरी में एंट्री कर जांच शुरू कर दी है। घटना स्थल पर यह चर्चा भी थी की रविवार को फ्रेंडशिप डे था और इन युवाओं ने रात में जमकर शराब पी होगी और इसलिए सुबह फुटाला के पास नशे में कार से दुर्घटना कर बैठे। घटना स्थल पर अंबाझरी पुलिस के सब पुलिस इंस्पेक्टर पंकज खरे के अनुसार युवक शराब के नशे में नहीं दिख रहे थे।