Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!

Nagpur City No 1 eNewspaper : Nagpur Today

| | Contact: 8407908145 |
Published On : Sat, Jan 12th, 2019

शहर के व्यवसाय बावनकर को धमकाने वाले दो गिरफ्तार

माधवनगरी के संचालक द्वारा जमीन हडपने का मामला, केस वापस लेने का दबाव

कामठी: कामठी के विवादास्पद व्यवसाय रामेश्वर बावनकर को एक जमीन के मामले में पिछले कुछ दिनों से धमकियां मिल रही थी। जमीन को लेकर मामला न्यायालय में विचाराधीन है। इस मामले को वापस लेने के लिए हाल ही में उन्हें फोन पर जान से मारने की धमकी दी गई। मामला थाने में पहुंचा और कामठी पुलिस ने इस मामले में धमकी देनेवाले दो लोगों को गिरफ्तार किया।

जीसमें माधवनगरी के संचालक का भी समावेश हैं।
प्राप्त जानकारी के अनुसार शहर के समाजसेवी एवं व्यवसायी रामेश्वर बावनकर (58) मां अम्बा निवास गांधी चौक निवासी का खेती का व्यवसाय और ठेकेदारी का काम भी है। येरखेडा में उनकी 10.75 एकर खेत है। उसका सर्वे नं. 36 और 38 है। यह खेत रामेश्वर बावनकर के नाम पर ही है। सर्वे नं. 38 के बाजू में अविनाश कोलते ने प्रशांत लक्षणे से खेत खरीदा था। उस खेत पर माधव नगरी नाम देकर उस खेत पर प्लाट बनाकर लोगों को बेचे। करीब 72 प्लाट निकाले गए और 60 प्लाट अब तक बेच चुके है। कुछ दिनों बाद बावनकर जब अपने खेत की गिनती करने पहुंचे तो उन्हें 10.75 एकर में से 2.5 एकर खेत कम पाया। जानकारी लेने पर पता चला कि अविनाश काेलते ने उस 2.5 एकर पर अवैध रुप से कब्जा कर लिया है।

इस पर अविनाश कोलते से वह जमीन वापस करने के लिए कहा गया तो उन्होंने बताया कि उनकी जमीन मेरे पास नहीं है। मैने 4.5 एकर खेत मालिक से खरीदा है उसका 7/12 भी मेरे पास है और 7/12 के अनुसार मेरा खेत मेरे पास है। बावनकर ने जब अविनाश कोलते से अपनी जमीन मिलते नहीं देखी तो उन्होंने सिविल कोर्ट में याचिका दायर की। जिसके अनुसार यह मामला न्यायालय में विचाराधीन है। 26 दिसंबर 2018 को सुबह 11 बजे के आसपास ललित बघेले, मंगेश यादव के साथ बावनकर के घर गए और उन्हें जमीन के लफडे में न पडने को लेकर समझाने लगे और कहा कि माधव नगरी के लेआऊट में कोलते के साथ उनकी पार्टनर शीप है यदि वे केस वापस नहीं लेते तो उन्हें देख लेने की भी धमकी दी गई।

धमकाकर वे लोग वहां से चले गए। इसके बाद 4 जनवरी 2019 को सुबह 11.38 बजे बावनकर के माेबाइल पर 9373281494 इस नंबर से फोन आया और उन्होंने फिर बावनकर को जमीन के लफडे में न पडते उस 2.5 एकर जमीन को भूल कर न्यायालय में जो केस डाली है उसे 8 दिन के भीतर वापस लेने की धमकी दी गई। 8 दिनों के भीतर यदि केस वापस नहीं हुआ तो 9 वें दिन उन्हें जान से मारने की धमकी दी गई।

इस फोन पर मिली धमकी के बाद बावनकर घबरा गए। पहले तो उन्होंने इस बारे में घर में किसी से भी चर्चा नहीं की। फिर इसके बाद 7 तारीख को कामठी के जुना पुलिस थाने में जाकर पूरे मामले की जानकारी दी। इस संदर्भ में पुलिस ने धारा 294, 506, 34 के तहत मामला दर्ज किया और मंगलवार 8 जनवरी को अविनाश कोलते और ललित बघेलेे को गिरफ्तार किया गया।मामला सामने आते ही जीन 60 लोगों ने माधवनगरी के ले आऊट में प्लाट खरीदे है उनके पैरों तले जमीन खिसक गई हैं।

Stay Updated : Download Our App
Mo. 8407908145