Published On : Thu, Jan 15th, 2015

रिसोड : कुएं में मिली दो सहलियों की लाशें


हत्या या आत्महत्या ?

एक पुलिस हिरासत में
अपहरण का मामला दर्ज

Anjali Jadhav , Rushali Kale
रिसोड (वाशीम)। यहां के पलसखेड के एक खेत के कुएं में दो सहेलियों की लाशें मिली. यह घटना गुरुवार को उजागर हुयी.

प्राप्त जानकारी के अनुसार रिसोड के सवड गांव की अंजलि और वृषालि बुधवार 14 जनवरी सुबह 11 बजे के करीब खेत से बेर तोड़ने के बहाने घर से निकली. अंजली ने उसके दोस्त संतोष को फोन कर बुलाया. इसी दौरान अंजली और संतोष को वृषाली के मामा अनिल ने बात करता देख लिया. संतोष वहां से जानेपर मामा ने अंजलि और वृषाली को घर जानें को कहां. लेकिन दोनों घर नहीं गयी. वहीं फिरसे अंजली ने संतोष को फोन कर कहां कि हम घर नहीं जा रहे तुम हमारे साथ चलो. संतोष दोनों को भोकरखेड रास्ते के दिनकर खरात के खेत में ले गया. जहां संतोष ने दोनों को समझाने की कोशिश की लेकिन अंजली कुछ भी समझने को तैयार नही थी. ऐसा संतोष ने अपने बयान में कहां है.

अपहरण का मामला किया दर्ज
सवड के ज्ञानबा जाधव ने 14 जनवरी को 4:30 बजे शिकायत दर्ज की. जिसमें कहां गया कि उसकी बेटी अंजलि (16) और दत्ताराव सोनुने की भांजी वृषालि मारोतराव काले (12) दोनों सुबह 11 बजे घर से निकली लेकिन घर नहीं लौटी. गांव के ही संतोष सुर्यभान मंडलिक (21) ने दोनों को भोरखेड रास्ते से गोरख क्षीरसागर के खेत में ले जाते हुए वृषाली के मामा अनिल ने देखा. इस शिकायत के आधार पर रिसोड पुलिस ने संतोष के खिलाफ नाबालिग लड़कियों को फुसलाकर अपहरण का मामला दर्ज किया.

कुए में मिलें शव
अंजलि और वृषालि को ढूंढने पर उनकें शव पलसखेड के दिनकर खरात के खेत के कुएं में पायी गयी. कुएं के पास दोनों की चप्पल मिली. इस घटना की जानकारी तुरंत पुलिस को दी गयी. गांववासियों की मदत से दोनों के शव बाहर निकाल पोस्टमार्टम के लिए ग्रामीण अस्पताल में भेज दिया गया. लेकिन जांच के लिए महिला वैद्यकीय अधिकारी न होने से उनके शव को अकोला रेफर किया गया. पोस्टर्माटम के बाद ही पुरा मामला उजागर होगा. ऐसा थानेदार सुरेश कुमार राउत ने कहां.

सवड गांव में शोक लहर, नही मनाई संक्रांत
सवड के दत्ताराव सोनुने की भांजी वृषाली पढाई के लिए यहां आयी थी. उनके घर के सामने अंजली रहती थी. दोनों में अच्छी दोस्ती थी. दोनों की मौत की खबर सुनते ही परिसर में संक्रांत नहीं मनाई. जिससें पुरे परिसर में शोक लहर फैली है. अंजली और वृषाली दोनों सवड के रामेश्वर विद्यालय में पढ़ती थी. अंजली 9 वी कक्षा तथा वृषाली 7 वी कक्षा में पढ़ती थी.

किया नेत्र दान
वृषाली के मामा समाचार पत्र समूह से जुड़े है. उन्होंने वृषालि और अंजलि के नेत्र दान किये है. अकोला जिला सामान्य अस्पताल के डॉक्टरों के सामने सभी प्रक्रीया पूरी की गयी.

पोस्टमार्टम के बाद ही पुरा मामला सामने आएगा कि यह हत्या है की आत्महत्या ? इस घटना की जांच थानेदार सुरेश कुमार राउत के मार्गदर्शन में सहाय्यक पो. उपनिरीक्षक डीगांबर कांबले और सहाय्यक पो. उपनिरीक्षक सुकेशनी जमदाड़े कर रहे है.