Published On : Thu, Nov 6th, 2014

रामटेक : त्रिपुरा पुर्णिमा के पुर्व संध्या पर निकली विशाल शोभायात्रा


शोभायात्रा में 44 सजीवाकृति झाकियों ने किया बेहतरीन प्रदर्शन

फिल्म अभिनेता मुकेश ऋषि, रतन अवलख व प्रमुख उपस्थियों के हाथों पुरस्कार वितरण

झाकिया देखने उमड़ी हजारों की भीड़

Shobhayatra
रामटेक (नागपुर)।
त्रिपुरी पुर्णिमा की पुर्व संध्या पर बुधवार 5 नवंबर को शोभायात्रा का शुभारंभ अठरा भूजा गणेश मंदिर से शोभायात्रा समिती के संयोजक संत गोपालबाबा, अध्यक्ष आनंदराव देशमुख, पुर्व मंत्री मधुकरराव किमतकर, नगराध्यक्षा नलिनी चौधरी, उपाध्यक्ष रमेश कारामोरे आदि के हांथो शाम 5 बजे किया गया. गट क्र. 1 मे 24 व गट क्र. 2 मे 20 पैदल झाकिया सहित कुल 44 झाकिया सम्मिलित हुई. 30 स्वागत द्वार लगाये गए थे. झांकिया कालंका माता, शास्त्री चौक, थानेदार बंगला, आंबेडकर वार्ड, बस स्टैंड, गांधी चौक से होते हुए रामतलाई मैदान पहुंची जहा देर रात यत्रा का समापन हो गया. थानेदार के बंगले के पास झांकियों को नंबर दिया गया. गांधी चौक में झांकियों का निरिक्षण किया गया जिनमें इंजिनीअरिंग कॉलेज  प्राध्यापक, सुर्यलक्ष्मी, माइन और प्रशासकीय अधिकारी का समावेश था.

Shobhayatra (1)
इस दौरान रामतलाई मैदान पर पुरस्कृत झांकिया और अन्य को करीब 2 लाख 69 हजार के पुरस्कार फिल्म अभिनेता मुकेश ऋषि और प्रमुख उपस्थितों के हांथों दिया गया. गट क्र.1 में आंबद भोगे द्वारा प्रस्तुत शिशुपाल वध को प्रथम, अशोक गुरव द्वारा प्रस्तुत झांकी श्रीकृष्ण विराट दर्शन को द्वितीय, भक्तिधाम मनसर द्वारा प्रस्तुत सीता स्वयंवर को तृतीय, गट क्र. 2 में शंकर पोटभरे के संजीवनी बुटी को प्रथम, नामदेव ठवरे के माखन चोर को द्वितीय, कुणाल येलने के भक्त प्रह्लाद को तृतीय क्रमांक मिला. द्वार क्रमांक में आंबेडकर वार्ड को प्रथम, विनायक वालदे के मडका द्वार को द्वितीय और रामालेश्वर वार्ड के संत गजानन द्वार को तृतीय पुरस्कार मिला. सुनील और राजू निर्मलकर छत्तीसगढ़ी आदिवासी नृत्य, गुहरीलाल जोशी के आदिवासी पंथी नृत्य, समयलाल यादव, अहीर यादव नृत्य को भी लोगों ने सहारा.

Shobhayatra (4)
इस अवसर पर फिल्म अभिनेता मुकेश ऋषि ने डायलॉग सुनाकर श्रोताओं का भरपूर मनोरंजन किया. संत गोपालबाबा ने शोभायात्रा सहयोग के लिए सभी को धन्यवाद दिया और कहा की शोभायात्रा सफल बनाने का श्रेय सभी का है. उन्होंने कहा कि, शोभायात्रा समाज को जोड़ने का काम करती है. प्रमुख उपस्थितियों ने कहा की प्रभु रामचंद्र और अगस्तीमुनि के पावन धरती में शोभायात्रा सांस्कृतिक,ऐतिहासिक और धार्मिक प्रसंगो की याद दिलाई है. संत गोपालबाबा अखंड वार्षिक शोभायात्रा का आयोजन नियमित करे. अन्य उपस्थितीयों ने संबोधन में शोभायात्रा आयोजन के लिए संत गोपाल बाबा की प्रशंसा की.
इस समारोह में प्रामुखता से सांसद कृपाल तुमाने, वि. डी. मल्लिकार्जुन रेड्डी, नगराध्यक्षा नलिनी चौधरी, शोभायात्रा समिति अध्यक्ष एवं पूर्व विधायक आनंदराव देशमुख, केंद्रीय पर्यटक सल्लागार समिति के चंद्रपाल चौकसे, डॉ. अमोल देशमुख, पत्रकार विजय पांडे, पत्रकार वसंत डामरे, पत्रकार सादिअली कुतुबी आदि ने प्रयास किया.

शोभायात्रा के लिए राजस्व विभाग, नगरपरिषद, बिजली विभाग, पुलिस विभाग और समाजसेवी लोगो का सराहनीय योगदान मिला. कार्यक्रम का संचालन ओमप्रकाश सोनी, दिपक गिरधर, जगदीश गुजरकर, विनोद जोशी, बोरकर आदि ने किया.

Shobhayatra (3)