Published On : Mon, Jul 17th, 2017

कागजातों के आभाव में नहीं करती ट्रैफिक पुलिस निजी बसचालकों पर कार्रवाई


नागपुर:
शहर में चल रहे विभिन्न विकास कार्यों के चलते वैसे ही यातायात व्यवस्था चरमराई हुई है. इस पर इन दिनों निजी बसों ने ट्रैफिक व्यवस्था और भी ज्यादा बिगाड़ कर रख दी है. गणेशपेठ बस स्टैंड, रहाटे चौक, गांधीबाग से लेकर अन्य जगहों पर इन बसों के कारण शहर का यातायात प्रभावित हो रहा है. लेकिन चाहकर भी ट्रैफिक पुलिस इन बसचालको पर कार्रवाई नहीं कर पा रहे है. यह निजी बस मनमानी ढंग से सड़क पर ही सवारियों को बस में भरने के लिए रुक जाते हैं जिससे पीछे वाहनों की भीड़ लग जाती है. इससे रोज वाहनचालकों को समस्याओं का सामना करना पड़ता है.

वर्धा रोड के सिग्नल पर तैनात दो ट्रैफिक पुलिस कर्मियों ने नाम न छापने की शर्त पर बताया कि शहर में निजी बसचालकों के कारण ट्रैफिक कर्मी भी काफी परेशान हो चुके हैं. वे चाहकर भी इन वाहनचालकों पर कार्रवाई नहीं कर पाते. ट्रैफिक पुलिस ने बताया कि ज्यादातर निजी बसचालकों के पास बस के कागजात नहीं होते हैं. जैसे इन्श्योरेंस, आरसी बुक आदि कागजात उनके मालिकों के पास जमा रहते हैं.

जिससे कार्रवाई के िलए इन्हें रोके जाने पर कागजात के आभाव में ये इन पर कार्रवाई नहीं हो पाती. यही वजह है कि अब यह बेझिझक बेखौफ होकर मनमानी ढंग से वाहन रुकाते है चलाते हैं. ट्रैफिक पुलिस ने बताया कि कार्रवाई से बचने के लिए ही बस मालिक ड्रायवर के पास दस्तावेज नहीं देते हैं. उन्होंने बताया कि ऐसे बस चालकों के खिलाफ कार्रवाई के िलए वरिष्ठ अधिकारियों को ही पहल करने की जरूर है.