Published On : Mon, Apr 10th, 2017

शौचालय तो बना लिए लेकिन नहीं मिला सरकार से अनुदान


नागपुर: 
सोमवार को जिल्हाधिकारी कार्यालय में विभिन्न मांगो को लेकर रामटेक तहसील के नगरधन निवासी विभिन्न मांगो को लेकर पहुंचे। जिसमें सैकड़ों की तादाद में गांव की महिलाओं और पुरुषों का समावेश था। दो साल पहले शौचालय बनवाने के लिए गांव के निवासियों को चुना गया था। सूचि में उनका भी नाम डाला गया था। नागरिकों ने शौचालय बनाने के बाद शौचालय की फोटो और अावेदन ग्रामपंचायत को दिया। बावजूद इसके करीब 2 साल बाद भी नागरिकों को अनुदान की निधि नहीं मिली पाई। जिनके लोगों ने अपने पैसों से शौचालय बनाया, लेकिन धनादेश में उनका नाम नहीं होकर भी नाम था।

इसमें कई ऐसे नागरिक भी थे जिनकों सरकार की ओर से शौचालय के लिए 12 हजार रुपए मिलने चाहिए थे। लेकिन उनको केवल 8 हजार रुपए ही दिए गए। साथ ही इसके इस गांव में घरकुल योजना तो लाभार्थियों को मिली लेकिन घरकुल का धनादेश अब भी पिछले 1 वर्ष से नहीं मिला है। गांववासियों का कहना है कि नगरधन गांव में अनगिनत समस्या है। गौरतलब है कि नगरधन पुरातत्व विभाग की भी महत्वपूर्ण साइट है। जिसके कारण इसका महत्व और बढ़ जाता है। लेकिन उसके बाद भी इन गांववासियों को अपनी समस्याओं के लिए परेशान होना पड़ रहा है। नागरिकों ने बताया कि इन समस्याओं के साथ ही पिने के पानी की भी भीषण समस्या गांव में है। गांव के लोगों ने जिल्हाधिकारी के मार्फत मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस को भी अपनी मांगो का निवेदन सौपा गया है।