| | Contact: 8407908145 |
    Published On : Mon, Jan 21st, 2019

    दूषित पानी की वजह से टिमकी परिसर में बढ़ रहे है पीलिया के मरीज, रोजाना 5 और 10 की संख्या में पहुंच रहे क्लिनिक

    नागपुर: देश में जहां एक ओर स्वच्छ भारत अभियान के माध्यम से देश को स्वच्छ करने की हामी भरी जा रही है तो वही दूसरी ओर गंदे पानी की वजह से नागपूर शहर में ही इस अभियान की पोल खुलते हुए दिख रही है. नागपूर शहर के मोमिनपुरा के टिमकी में पिछले कई महीनों से पीलिया के मरीज बढ़ने की वजह से क्लिनिकों में भीड़ देखी जा रही है. प्रभाग में कई जगहो पर पिने की पाइपलाइन पुरानी होने की वजह से परिसर के लोग पीलिया की चपेट में आ रहे है. प्रभाग के क्लिनिक में रोजाना कभी 5, तो कभी 10 तो कभी 2 मरीज पहुंचने की जानकारी भी सामने आयी है. बड़ा प्रभाग और कम जगह में ज्यादा लोगों के रहने की वजह से यहांपर गन्दगी भी काफी फैली रहती है. कुछ जगहों की पाइपलाइन बदली गई है. लेकिन कई जगहों की पाइपलाइन नहीं बदलने की वजह से पिने के पानी में दूषित पानी मिलने की वजह से लोग बीमार हो रहे है और उन्हें पीलिया जैसी बिमारी हो रही है.

    इस बारे में परिसर के ही डॉ.मुजाहिद अहमद ने जानकारी देते हुए बताया की पिछले कई महीनों से परिसर में पीलिया के मरीज बढे है. पिने के पानी में दूषित पानी मिलने की वजह से लोगों में यह बिमारी फैली है. रोजाना पीलिया के कभी 5 तो कभी 10 मरीज क्लिनिक में पहुंच रहे है.

    इस बारे में प्रभाग के नगरसेवक जुल्फिकार अहमद भुट्टो से बात की गई तो उन्होंने जानकारी देते हुए बताया की परिसर में काफी पुरानी पिने की पाइपलाइन होने की वजह से यह समस्या आ रही है. कुछ पाइपलाइन को बदलने का काम किया गया है. लेकिन कुछ बाकी है. मनपा की ओर से पाइपलाइन बदलने का कार्य बहोत ही सुस्त गति से होता है. एक ही ठेकेदार को कई जगहों का काम देने की वजह से काम धीमे गति से होता है.

    इस पुरे मामले में क्षेत्र के विधायक विकास कुंभारे से संपर्क करने की कोशिश की गई लेकिन उनकी ओर से कोई प्रतिसाद नहीं मिल पाया है.

    Stay Updated : Download Our App
    Mo. 8407908145