Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!
    | | Contact: 8407908145 |
    Published On : Wed, May 15th, 2019
    nagpurhindinews / News 2 | By Nagpur Today Nagpur News

    ये जहरीला जाम.. लेगा जान!

    गोंदिया में बनावटी शराब बनाने की फैक्ट्री का पर्दाफाश, 24 नामजद

    गोंदिया: होटल, बार, पब, ढाबों में बैठकर शराब की पुरी कीमत चुकाने के बाद भी अगर शराब आपके दिमाग में सुरूर पैदा ना करे और सुबह उठते ही आपका सिर, दर्द से भन्नाने लगे तो समझ लेना आपने घटिया मिलावटी शराब का सेवन किया है?

    गोंदिया में असली बोतल- नकली शराब का धंधा पैर पसार चुका है। महाराष्ट्र का लेबल चिपकाकर तथा बोतल व ढक्कन सील कर हु-ब-हू उसे असल कम्पनी की शक्ल देकर इस तैयार मिलावटी शराब की बिक्री जिले में तो हो ही रही है, लेकिन इसकी सबसे बड़ी खेप दारूबंदी घोषित पड़ोसी जिले चंद्रपुर व गड़चिरोली के लिए भेजी जा रही है। इस बात की पुख्ता जानकारी गुप्तचर से मिलने के बाद स्टेट एक्साइज विभाग मुंबई के आयुक्त प्राजक्ता लांवगारे, विभागीय आयुक्त उषा वर्मा के मार्गदर्शन तथा गोंदिया के अधीक्षक प्रवीण तांबे, शशीकांत गर्जे, निरीक्षक तानाजी कदम के नेतृत्व में 14 मई के रात गोंदिया शहर के बाजपेयी वार्ड के सरस्वती शिशु मंदिर निकट एक मकान के भीतर चल रहे मिलावटी नकली शराब बनाने की फैक्ट्री पर आबकारी विभाग ने छापामार कार्रवाई करते हुए नकली शराब बनाने में जुटे 19 लोगों को धरदबोचा जबकि जिनके सरपरस्ती में यह कारखाना चलाया जा रहा था एैसे मास्टर माइंड आरोपी श्याम चाचेरे, सिद्धू नंदागवली, महेंद्रसिंग ठाकुर व 2 अन्य फरार है जिनकी तलाश सरगर्मी से की जा रही है।

    आबकारी विभाग ने घटनास्थल से एक वाहन में लदी 45 पेटी तैयार बनावटी शराब तथा कारखाने के भीतर 10 बड़े प्लास्टिक ड्रमों में भरकर रखा 1 हजार 175 लि. स्पिरिट, 2 बोतल अर्क (सेंट), 3 हजार लेबल लगी खाली बोतलें, सुपर सॉनिक रॉकेट संतरा प्रिंट के हजारों लेबल, 10 हजार बूच, 55 खाली प्लास्टिक के केन, पानी खींचने का टूलू पंप इस तरह 2 लाख 82 हजार 900 रू. का साहित्य तथा एक वाहन जब्त करते हुए हिरासत में लिए गए 19 आरोपी – करण अंबादे (19), तिरेंद्र सोनवाने (19), सोनू सोनवाने (20), पवन सहारे (30), संतोष रहांगडाले (28), मनोज शिवणकर (38), नितेश रॉय (30), कमलेश धाकड़े (19), सागर सोमलपुरे (24), कपिल लुईया (25), स्नेहिल हिरकने (21), तरूण टेंभुर्णे (19), कुणाल धकाते (20), सुरेश मेश्राम (60), पराग अग्रवाल (25), घनश्याम हुड (49), आनंद नागपुरे (21), राहुल ओमकारकर (20), लतेश लक्केवार (23) तथा फरार 5 आरोपी इस तरह 24 आरोपियों के विरूद्ध महाराष्ट्र शराबबंदी अधिनियम की धारा 65 (अ) (ब) (क) (ड) (ई) (फ) 82, 83 व 108 के तहत मामला पंजीबद्ध किया है।

    उल्लेखनीय है कि, गोंदिया नकली शराब बनाने का प्रमुख केंद्र बनता जा रहा है। इसी बाजपेयी वार्ड इलाके में नकली शराब बनाने की फैक्ट्री का पर्दाफाश गत माह किया गया था। विभाग की मानें तो घटिया सामग्री का इस्तेमाल कर बनायी जाने वाली शराब का सेवन ना सिर्फ शरीर के लिए हानिकारक होता है बल्कि एैसी शराब का अधिक प्रमाण में सेवन करने से इंसान अंधत्व का शिकार भी हो सकता है ? लिहाजा यह लोगों की सेहत से खिलवाड़ का मामला है इसलिए इस फैक्ट्री को चलाने वाले मास्टर माइंड की धरपकड़ तेज कर दी गई है।



    – रवि आर्य

    Trending In Nagpur
    Stay Updated : Download Our App
    Mo. 8407908145