Published On : Wed, Jul 26th, 2017

राॅयल सोसाइटी आॅफ केमिस्ट्री की कार्यशाला नागपुर में होगी आयोजित : इग्नू

Royal Society of Chemistry, IGNOU
नागपुर
: राॅयल सोसायटी आॅफ केमिस्ट्री (आर.एस.सी.) वेस्ट इंडिया सेक्शन, इंदिरा गांधी राष्ट्रीय मुक्त विश्वविद्यालय (इग्नू) क्षेत्रीय केंद्र नागपुर और हिस्लाॅप काॅलेज के सहयोग से 29 जुलाई 2017 को रसायन विज्ञान कार्यशाला का आयोजन किया जा रहा है.

यह जानकारी इग्नू क्षेत्रीय केंद्र में आयोजित पत्रकार परिषद के दौरान क्षेत्रीय निदेशक डाॅ. शिवस्वरूप और हिस्लॉप कॉलेज की प्राचार्या डाॅ. दीप्ति क्रिश्चियन ने दी.

इस दौरान डाॅ. शिवस्वरूप ने कहा कि राॅयल सोसाइटी आॅफ केमिस्ट्री दुनिया भर में रसायन विशेषज्ञों के लिए एक अंतरराष्ट्रीय प्रतिष्ठित व्यवसाइक संगठन है. पिछले कुछ सालों से राॅयल सोसायटी आॅफ केमिस्ट्री वेस्ट इंडिया सेक्शन और इग्नू क्षेत्रीय केंद्र नागपुर के संयुक्त रूप से देश के प्रतिष्ठित संस्थानों के विषेशज्ञों को आमंत्रित करके हर साल विभिन्न वैज्ञानिक कार्यक्रमों का आयोजन किया जा रहा है. उन्होंने कहा कि इस वैज्ञानिक कार्यक्रम का उद्देष्य विदर्भ के छात्रों की ज्ञान के दायरे को को बढ़ावा देना और रसायन विज्ञान में नवीनतम शोध कार्यों को उजागर करना है. उन्होंने कहा कि इस साल फरवरी माह में टाटा इंस्टिट्यूट आॅफ फंडामेंटल रीसर्च (टी.आई.एफ.आर) मुंबई के एक विषेशज्ञ ने गडचिरोली के गोंडवाना विश्वविद्यालय में आदिवासी छात्रों के लिए व्याख्यान दिया.

डाॅ. शिवस्वरूप ने अवगत कराया कि एक कार्यशाला पोस्ट ग्रेजुएट छात्रों और शोधकर्ताओं के लिए 29 जुलाई 2017 शनिवार को हिस्लाॅप काॅलेज में आयोजित की जाएगी. इस कार्यशाला में भाग लेनेवाले प्रतिभागियों को एडवांस केमिस्ट्री में व्यावहारिक अनुभव मिलेगा. कार्यशाला का शीर्षक मौलिक रसायन विज्ञान और उसके उन्नत अनुसंधान मे उपयोग है. आई.आई.टी. बाॅंम्बे के 2 प्रोफेसर और पुणे विश्वविद्यालय से 1 प्रोफेसर व्याख्यान देंगे एवं कार्यशाला का संचालन करेंगे. डिंपी कालिया द्वारा ‘कैंसर-बचाओ के लिए रसायन विज्ञान’, प्रो. रुचि आनंद द्वारा ”माइक्रोमाॅलिक्युलर क्रिस्टलोग्राफी फोटोग्राफी आॅन द एटाॅमिक लेवल’ एवं प्रो. सुवर्ण कुलकर्णी द्वारा ‘2डी-एन.एम.आर स्पेक्ट्रोस्कोपी का उपयोग करके आॅरगॅनिक अणुओं के स्ट्रक्चर का समाधान’ पर व्याख्यान प्रस्तुत करेंगे.

सभी प्रतिभागियों को कार्यशाला के दौरान किट (निःशुल्क) प्रदान की जाएगी. उन्होंने बताया कि कार्यशाला में भाग लेने के लिए पंजीकरण शुल्क रखा गया है. इच्छुक स्नातकोत्तर छात्र, रीसर्च स्काॅलर्स पंजिकरण के लिए हिस्लॉप कॉलेज के पीजी टीचिंग डिपार्टमेंट आॅफ केमिस्ट्री से संपर्क कर सकते हैं.

परिषद में मौजूद डाॅ. दीप्ति क्रिश्चियन ने कहा कि इग्नू ने हिस्लाॅप काॅलेज में एक अध्ययन केंद्र शुरू किया है. जिसमें 8 पाठ्यक्रम चलाए जा रहे हैं. जिसमें एम.ए. फिलाॅसाॅफी भी शामिल है. उन्होंने कहा कि पहले से ही 220 प्रतिभागियों ने 10 महाविद्यालयों से आर.एस.सी. कार्यशाला के लिए पंजिकरण किया है। इसमें वी.एन.आई.टी गडचिरोली से भी छात्र शामिल हैं. पत्रकार परिषद में डाॅ.लता देशमुख, डाॅ. शुभजीत हलधर और डाॅ. खेडकर, हिस्लाॅप काॅलेज के केमिस्ट्री फैकल्टी भी मौजूद थे.