Published On : Tue, Feb 6th, 2018

नागपुर मंडल का काम सराहनीय – महाप्रबंधक, मध्य रेल


नागपुर: मध्य रेल के महाप्रबंधक देवेंद्र कुमार शर्मा ने आने वाले कुछ समय में नागपुर रेल्वे स्टेशन के वर्ल्ड क्लास होने की बात कही है। मंगलवार को पत्रकारों से बात करते हुए शर्मा ने बताया की स्टेशन के आसपास मौजूद जमीन को लेने का प्रयास शुरू है। स्टेशन से सटी रक्षा मंत्रालय, एमएसआरटीसी, एमपी बस स्टैंड की जगह मिल जाने पर इस जगह का बेहतर इस्तेमाल किया जा सकता है। केंद्रीय मंत्री नितिन गड़करी की मध्यस्तता के बाद इस प्रक्रिया में तेजी आयी है। यह काम हो जाने के बाद स्टेशन का स्वरुप वर्ल्ड क्लास हो जाएगा।

मंगलवार को शर्मा नागपुर डिवीजन के वार्षिक निरिक्षण दौरे पर थे। अमला से नागपुर के बीच अपने दौरे को निपटाने के बाद उन्होंने डीआरएम ऑफिस में पत्रकारों से बातचीत कर विभाग में किये जा रहे विकासकार्यो की जानकारी साझा की। उन्होंने बताया की बीते तीन महीने में रेल विभाग में व्यापक बदलाव हुए है जिनका असर आने वाले वक्त में सकारात्मक रूप में होगा। आने वाले पांच वर्षो में भारतीय रेल नए रूप में स्थापित होगी। निर्माणकार्यो और योजनाओं के क्रियांवयन को लेकर डीआरएम और जीएम को जो अधिकार दिए गए है उससे काम की गति में तेजी आएगी।

अपने दौरे पर संतोष जताते हुए महाप्रबंधक ने मंडल रेल प्रबंधक बृजेश कुमार गुप्ता की सराहना की,उन्होंने कहाँ की मुझे किसी तरह की कमी दिखाई नहीं दी हालांकि हर काम में सुधार की आवश्यकता अवश्य होती है। ट्रैक मेंटनेंसम,रोलिंग स्टॉक,कॉमन सर्विसेज़ के साथ अन्य क्षेत्र में भी उम्दा कार्य हुए है। अजनी स्थित ब्रिज के जर्जर होने के सवाल पर महाप्रबंधक ने कहाँ की सुरक्षा की दृस्टि से ब्रिज को वर्त्तमान स्थिति में किसी भी तरह का ख़तरा नहीं है। भारतीय रेल के पास बेहतर सिविल इंजिनियर है जिन्होंने ब्रिज की सेफ़्टी को लेकर अध्ययन किया है इसमें किसी तरह का ख़तरा नहीं है।

Advertisement

Advertisement

महाप्रबंधक की प्रेस कॉन्फ्रेंस के मुख्य मुद्दे
– भारतीय रेल बिजली की ख़पत कम करने के लिए प्रभावी प्रयास कर रही है। नागपुर मंडल में एलईडी लाइट्स लगाने का अच्छा काम हुआ है मार्च तक डिवीजन में सभी जगह सिर्फ एलईडी लाइट्स रहेंगी।
-नागपुर स्टेशन के हर प्लेटफॉर्म में एस्कलेटर लगाए जाएंगे।
-आईआरसीटीसी की मदत से नागपुर में स्थापित हो रहे रेल नीर के प्लांट का काम जून तक पूरा हो जाएगा।
-मैकेनाइज लॉन्ड्री वर्ष के अंत तक शुरू हो जाएगी।
-पैसेंजर ट्रेन की जगह मेनू ट्रेन चलाने की दिशा में प्रयास किया जाएगा।
– डिवीजन के सभी स्टेशन में सिर्फ रेल नीर पानी की ही बिक्री होगी।
– मुंबई -हावड़ा रूट पर हाई स्पीड़ ट्रेन के ऐलान ने नागपुर के यात्रियों को मिलेगा लाभ।
– नागपुर से पुने के लिए चलने वाली ट्रेन को साप्ताहिक और समय के बदलाव पर होगा विचार

Advertisement

Advertisement

Advertisement
Advertisement
 

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement