Published On : Fri, Dec 14th, 2018

माल्या पर दिए गए बयान को मीडिया ने गलत तरह से पेश किया – गड़करी

Nitin Gadkari

नागपुर: विजय माल्या पर गुरुवार को दिए गए अपने बयान पर केंद्रीय मंत्री नितिन गड़करी ने सफाई दी है। गड़करी ने नागपुर में कहाँ कि उनके बयान को तोड़ मरोड़कर मीडिया ने प्रस्तुत किया। उन्होंने माल्या का समर्थन नहीं किया था बस यही कहाँ था कि व्यापार में उतार-चढाव आते रहते है बैंक में माल्या का 40 वर्ष तक प्राइम अकाउंट रहा। 41 वर्ष में उसे व्यापार में घाटा हो गया। जिससे एनपीए हो गया। बैंक खाता एनपीए हो जाना फ्रॉड है ऐसा नहीं होता। इसी के साथ मैंने यह भी कहाँ था कि अगर माल्या ने गैरकानूनी काम किया हो और कार्रवाई हो रही हो तो वह सही है। दोनों मुद्दे अलग थे लेकिन मीडिया ने उनकी बात का एक हिस्सा दिखाया जबकि एक को नजरअंदाज किया।

राफेल पर सुप्रीम कोर्ट के फ़ैसले से सच सामने आया
राफेल विमान खरीदी को लेकर दाखिल सभी याचिकाएँ शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट ने ख़ारिज कर दी। गड़करी के मुताबिक इस फैसले से सच सामने आ गया है। राफेल ख़रीदी का निर्णय देश हित में लिया गया था और इस प्रक्रिया में पारदर्शिता और क़ीमत को लेकर किसी तरह की कोताही नहीं बरती गई। सुप्रीम कोर्ट के फ़ैसले के बाद से यह साफ़ हो गया है कि जो आरोप लगाए गए थे वह झूठे थे। देश की सुरक्षा के लिए राफेल की खरीदी की गई है। देशहित के मुद्दों पर राजनीति नहीं होनी चाहिए।