| | Contact: 8407908145 |
    Published On : Sat, Jun 5th, 2021

    झमाझम बारिश से सड़कें हो गईं लबालब

    नागपुर. शुक्रवार को जिले में हुई बारिश ने मानसून पूर्व प्रशासन की तैयारियों की पोल खोल दी. 30 मिनट की बारिश से शहर की सड़कें पानी से लबालब हो गईं. पानी में डूबी ये सड़कें किसी कॉलोनी या गांव की नहीं है. बल्कि ये सिटी की मुख्य सड़कें हैं. सीताबर्डी चौक से लेकर गणेशपेठ, रेलवे स्टेशन तक सड़कों पर पानी जमा रहा. संतरा मार्केट, रेलवे स्टेशन,पोद्दारेश्वर राम मंदिर रोड का ओवर ब्रिज, नरेंद्रनगर अंडर ब्रिज समेत सिटी की मुख्य सड़कों पर पानी जमा हो गया. बारिश के पानी की निकासी के लिए प्रशासन द्वारा समय रहते कोई व्यवस्था और इंतजाम नहीं किए गए. गंदे पानी की निकासी की कोई व्यवस्था नहीं होने की वजह से सड़कों पर तालाब सा नजारा देखने मिला. इस दौरान दो पहिया वाहन और पैदल चलने वाले राहगीरों को खासी समस्याओं का सामना करना पड़ा. थोड़ी सी बारिश में ही निचले इलाकों में रहने वालों के घरों में पानी घुस गया.

    नालियों की नहीं हुईं सफाई
    सीताबर्डी में सड़कों पर पानी करीब आधा फीट तक भर गया. व्यापारियों ने बताया कि लंबे समय से नालियों की सफाई नहीं हुई है. पानी की निकासी के लिए बनाए गए चैंबर भी भर गए हैं. जिससे बारिश का पानी सड़कों पर ही जमा रहता है. बारिश पूर्व किसी तरह की कोई तैयारी नहीं की गई है. अब इसका नतीजा पूरे बरसात आम आदमी और व्यापारियों को भुगतना होगा. सीताबर्डी पुलिस स्टेशन और मेट्रो स्टेशन के पास भी सड़कें पानी में डूबी रहीं. इसके अलावा संतरा मार्केट से मोतीबाग रोड पर भी यही स्थिति नजर आई.

    ब्रिज के ऊपर भी पानी
    नागपुर रेलवे स्टेशन के सामने बने ओवर ब्रिज का हाल सबसे खराब है. लोहा पुल से रेलवे स्टेशन की ओर जाने वाले ब्रिज के ऊपर पानी निकासी के लिए बनी नाली में मिट्टी जमा हो चुकी है. जिसके कारण पानी की निकासी नहीं हो पा रही है. यही हाल नरेंद्रनगर ओवर ब्रिज और अंडरब्रिज का था. ओवर ब्रिज का पानी हालांकि ढलान होने की वजह से हट गया. लेकिन नरेंद्रनगर अंडरब्रिज ने इस बारिश के बाद एक बार फिर लोगों की मुश्किलें बढ़ा दी. वहीं इसके साथ ही सदर फ्लाइ ओवर पर भी यही हाल है. पानी निकासी की जगह में मिट्टी और घास निकल आए है. जिससे पानी का जमाव हो रहा है.

    पेड़ों की डालियां बनीं आफत
    ओवर ब्रिज पर पेड़ों की डालियां इतनी बढ़ गईं हैं कि वह आधे सड़क को ढक चुकी है. ब्रिज पर अंधा मोड़ है घने पेड़ के होने से सामने से आनेवाले वाहन भी दिखाई नहीं दे रहे हैं. इससे बड़ा हादसा भी हो सकता है. लेकिन बारिश से पहले डालियों की छंटाई तक नहीं की गई हैं. इन पेड़ की शाखाओं ने स्ट्रीट लाइट को भी पूरी तरह से ढक दिया है, जिससे रात में इस ब्रिज के ऊपर अंधेरा फैला रहता है.

    लोग हुए परेशान
    शुक्रवार को दोपहर के बाद हुई तेज बारिश ने एक तरफ जहां लोगों को गर्मी से राहत पहुंचाई तो प्रशासनिक तैयारियों का चिट्ठा भी खोल दिया. थोड़ी देर की बारिश ने लोगों को बड़ी मुसीबत में डाल दिया. अगर समय रहते नालियों की सफाई और पेड़ों की छंटाई की होती तो लोगों को समस्याओं का सामना नहीं करना पड़ता. आने वाले समय में बारिश और तेज और ज्यादा होगी. ऐसे में अगर यही स्थिति रही तो यह आम लोगों के लिए परेशानी का सबब बन जाएगा.

    Trending In Nagpur
    Stay Updated : Download Our App
    Mo. 8407908145