Published On : Wed, Jun 22nd, 2022
nagpurhindinews | By Nagpur Today Nagpur News

अनाधिकृत भूखंडों और निर्माणकार्य को नियमितीकरण करने की प्रक्रिया शुरू

Advertisement

-दिया जा रहा नागरिकों को मनमाफिक समय

नागपुर – नागपुर सुधार प्रन्यास ने गुंठेवारी के तहत अनाधिकृत भूखंडों और निर्माणकार्य को नियमितीकरण करने की प्रक्रिया शुरू कर दी है. इस सम्बन्ध में दो बार समय देने के बाद अब तक नियमितीकरण के लिए 67 हजार आवेदन प्राप्त हो चुके हैं। इसके लिए अतिरिक्त तीन महीने के लिए बढ़ा दिया गया है। इसके पीछे एक बिल्डर की लॉबी सक्रीय होने की चर्चा चल रही हैं.

Advertisement

याद रहे कि नासुप्र ने अनाधिकृत लेआउट के भूखंडों और बांधकामो को नियमित करने के लिए सम्बंधित नागरिकों को दस्तावेज जमा करने हेतु तीन महीने तक बढ़ा दिया। इसलिए यह प्रक्रिया 20 सितंबर तक चलेगी। नासुप्र सभापति-एनएमआरडीए आयुक्त मनोज कुमार सूर्यवंशी ने नागरिकों से आवेदन कर दस्तावेज जमा करने की अपील की है.

शहर के सैकड़ों भूखंडों को बड़े डेवलपर्स ने ब्लॉक कर दिया है। कुछ भूखंडों पर विभिन्न आरक्षण हैं। नासुप्र और बिल्डरों में मनमाफिक समझौता के लिए बार-बार अतिरिक्त समय दी जा रही हैं.

नागपुर सुधार प्रन्यास ने प्लाटों पर अनाधिकृत निर्माण और नियमितीकरण के लिए नागरिकों से ऑनलाइन आवेदन मांगे थे। बड़ी संख्या में नागरिकों ने नियमितीकरण के लिए आवेदन किया था। भूखंड की बिक्री, बांधकाम का नक्शा आदि जैसे दस्तावेजों को स्वीकार करने के लिए एक विशेष अभियान शुरू किया गया था। अवकाश के दिनों में भी संभागीय कार्यालय खुले रहे थे।

नागरिकों ने भी जबरदस्त प्रतिसाद दिया। अंतिम दिन होने के कारण पूर्व, दक्षिण और पश्चिम मंडल कार्यालयों में नागरिकों की भारी भीड़ रही. उस समय, नागरिकों के लिए अतिरिक्त काउंटर खोले गए.

प्लाटों एवं निर्माणों के नियमितीकरण हेतु नागरिकों ने विभागीय कार्यालय में जाकर प्लाटों की बिक्री की डीड, ले-आउट मैप, वर्तमान निर्माण का फोटो,आर्किटेक्ट द्वारा तैयार किया गया नक्शा, गारंटी पत्र एवं भूखण्डों से सम्बंधित हमी पत्र सह प्रतिज्ञा पत्र जमा करवाने का निर्देश दिया गया था। इसके लिए पुनः समयावधि बढ़ा दी गई,इससे जो नागरिक महरूम रह गए थे,उन्हें कागजाते जमा करवाने का मौका मिला।

Advertisement

Advertisement
Advertisement
 

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement