Published On : Mon, Mar 22nd, 2021

एमपी के लिए एसटी बसों के बंद होने से विभाग को हो रहा है नुकसान

नागपुर– कोरोना संक्रमण के चलते मध्यप्रदेश जानेवाली एसटी बसों की फेरियां बंद होने से एक दिन में लगभग 7 लाख रुपए का नुकसान हो रहा है. नागपुर के साथ विदर्भ से मध्यप्रदेश में जानेवाले यात्रियों की संख्या बढ़ी है. इस वजह से एसटी महामंडल द्वारा मध्यप्रदेश में संचालन शुरू किया गया. नागपुर डेपो के प्रबंधक अनिल आमनेकर ने जानकारी देते हुए कहा की गणेशपेठ डेपो से मध्यप्रदेश के लिए 6 बसें और नागपुर जिले से करीब 22 बसेस जाती है. गणेशपेठ विभाग को एक दिन में 1.50 लाख रुपए का फायदा होता है. जबकि नागपुर विभाग को लगभग 7 लाख रुपए का.

लॉकडाउन के दौरान एसटी महामंडल की कमाई पर असर के साथ ही इसकी बसों की टाइमिंग भी गड़बड़ा गई है. बसों में आधी संख्या में भी सवारी भरने के लिए कई बस स्टैंडो पर बसों को कुछ देर रुकना पड़ रहा है. इससे समय की गड़बड़ हो रही है.रोजाना कई गाड़ियां आधा घंटे से एक घंटे की देरी से पहुंच रही है.

इसके साथ ही यह भी देखने में आ रहा है कि लॉकडाउन के डर के कारण मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ के कई मजदुर बसों और ट्रेनों के लिए भटक रहे है. इन्हे इनके गांवो जाने के लिए ट्रेनें नहीं मिलने के कारण और बसेस नहीं मिलने के कारण इनको भी काफी परेशानी हो रही है.