Published On : Wed, Mar 4th, 2015

कन्हान : शिक्षकों के प्रलंबित प्रश्न तुरंत छुड़ाए


शिक्षक समिति की गट शिक्षणाधिकारी से चर्चा

कन्हान (नागपुर)। पारशिवनी तालुका के शिक्षकों के प्रलंबित प्रश्नों के संदर्भ में महाराष्ट्र राज्य प्राथमिक शिक्षक राज्य सहसचीव रामु गोतमारे और तालुका अध्यक्ष धनराज बोडे के नेतृत्व में प्रतिनिधी मंडल ने गट शिक्षणाधिकारी समिधा कुलकर्णी को ज्ञापन देकर चर्चा की. इस दौरान अधिक्षक कामठे, विस्तार अधिकारी उमाठे और शिक्षण विभाग के तीनों लिपीक उपस्थित थे.

पारशिवनी पंचायत समिति शिक्षण विभाग के कर्मचारियों के टालमटोल से शिक्षकों के वेतन से जिवन बिमा के हप्ते समय पर नही भरने से शिक्षकों की पॉलिसी लैप्स हो रही है. तथा एक पतसंस्था के कपात की रकम दुसरे पतसंस्था में भेजे जाने से शिक्षकों पर आर्थिक भोझ बढ़ रहा है. गत दो वर्षों से निधी नही होने का कारण देते हुए शिक्षकों के वैद्यकीय खर्च के भरपाई और प्रशासकीय बदली हुए शिक्षकों का यात्रा  भत्ता मंजूरी के अभाव में धुल खा रहा है.

प्रलंबित यात्रा भत्ता और वैद्यकीय भरपाई तुरंत मंजूर करे, अप्रशिक्षित शिक्षकों का अप्रशिक्षित समय का वेतन श्रेणी बकाया का प्रस्ताव मंजूर करके जि.प. को प्रस्तुत करे, वरिष्ठ श्रेणी प्राप्त शिक्षकों का बकाया निकालना, शिक्षकों की कर्ज प्रस्ताव फाइल, भविष्य निर्वाह निधी अग्रीम फाइल्स का बिना विलंब निपटारा करना, पगार से आयकर की कपात होकर भी शिक्षकों को आयकर विभाग से नोटिस आने से आयकर की त्रिमासिक ई-फाइलिंग करना, कुछ शिक्षकों के छठे वेतन आयोग बकाया के हप्ते जि.पी. एफ. को नही भेजे गए. इस संबंध में जि. पी. एफ. खातेपर जमा करना, सेवा निवृत्ती प्रकरण समय पर हल करना आदि मांगे की गई.

इस दौरान प्रतिनिधी मंडल में रामु गोतमारे, धनराज बोडे, अरविंद कठाने, धनराज कलसाईत, ओमदेव मेश्राम, जीवन सलामे, नरेंद्र ढोके, अनिल पाटिल, अशोक उईके, अनंता सावरकर, धनंजय दियेवार, दिलीप मेहर, अशोक पवार, धनराज क्षीरसागर, दिलीप भोगे आदि शिक्षक थे.

File Pic

File Pic