Published On : Thu, Mar 19th, 2020

मिठाई कल की,नास्ता आज का

कोरोना वाइरस से संबंधित राज्य सरकार,जिलाधिकारी के निर्देशों की मनपा परिवहन विभाग ने की अवहेलना

नागपुर – आज गुरुवार को मनपा परिवहन समिति ने बजट पेश की,इस दौरान विभाग ने उपस्थितों को कोरोना वाइरस से संबंधित राज्य सरकार,जिलाधिकारी के निर्देशों की मनपा परिवहन विभाग ने अवहेलना करते हुए बासी मिठाई व आज निर्मित ताज़ा नास्ता परोसा। कुछ ने खाया,कुछ ने छोड़ा तो कुछ लेकर गए।

कोरोना को लेकर केंद्र से लेकर राज्य सरकार तक पूर्ण सख्ती बरती जा रही। राज्य सरकार के निर्देशों का पालन करते हुए जिलाधिकारी व मनपायुक्त ने सख्ती बरतते हुए कल शाम से शहर व जिले के होटल,बार सह अन्य खाद्य विक्रेताओं को उनके प्रतिष्ठान बंद करने के आदेश दिए।

इसकी मनपा परिवहन विभाग को भी जानकारी थी,क्योंकि आज गुरुवार की दोपहर परिवहन समिति का बजट था,बजट में उपस्थितों को नास्ता परोसने की प्रथा के मद्देनजर परिवहन विभाग के अधिकारी समीर परमार के अनुसार कल बुधवार को हल्दीराम से मिठाई खरीदी और आज सुबह सीताबर्डी के सुरुचि नामक प्रतिष्ठान से नमकीन नास्ता ताज़ा-ताज़ा बनवाया। फिर मीठा और नमकीन नास्ता को बिना ब्रांडेड डब्बे में रख आज दोपहर को परोस दिया गया।इस वितरित डब्बों को उपस्थितों में से कुछ ने खाया,कुछ ने बांध कर ले गए तो कुछ ने जगह पर ही छोड़ दिया।

शेष बचे डब्बों को अन्यों में वितरित किया जाएगा। सवाल यह हैं कि परिवहन विभाग को कोरोना वाइरस के मद्देनजर इतनी गंभीरता क्यों नहीं। या फिर किसके आदेश से परमार ने उक्त व्यवहार किया। क्या मनपायुक्त इस मसले को गंभीरता से लेंगे,या फिर सोशल मीडिया तक मनापायुक्त कोरोना को लेकर गंभीरता दिखा रहे।