Published On : Sat, May 11th, 2019

सब जूनियर नेशनल हॉकी टूर्नामेंट आज शाम उद्धघाटन

20 टीमों के बीच भिड़ंत

रायपुर: छत्तीसगढ़ राज्य के हॉकी एसोसिएशन के सर्वेसर्वा जनाब फिरोज अंसारी के अनुसार राजधानी में दूसरी बार सब जूनियर नेशनल ब्वॉयज हॉकी टूर्नामेंट होगा। टूर्नामेंट के मुकाबले 11 मई से शुरू होंगे, जो 22 मई तक चलेगा। इसमें 20 टीमें हिस्सा लेंगी। प्रदेश की टीम नहीं उतरेगी। दूसरे चरण में बिलासपुर में होने वाले टूर्नामेंट में प्रदेश की टीम उतरेगी। छत्तीसगढ़ की टीम ग्रुप ए में थी, लेकिन पिछले साल हारने के बाद इस साल टीम ग्रुप-बी में आ गई है। खेल विभाग, छत्तीसगढ़ हॉकी और छत्तीसगढ़ ओलंपिक संघ की ओर से प्रदेश में चौथी बार सब जूनियर नेशनल हॉकी टूर्नामेंट का आयोजन किया जा रहा है। टूर्नामेंट में सुबह 7 बजे से मुकाबले शुरू होंगे, जो शाम के 7 बजे तक चलेगा। इसमें पहला मुकाबला चैंपियन ओडिशा और आंध्रप्रदेश के बीच खेला जाएगा। 21 मई को सुबह 9 बजे और शाम 3 बजे सेमीफाइनल और 22 मई को शाम 3 बजे से फाइनल मुकाबला खेला जाएगा।

हर दिन होंगे पांच से सात मुकाबले
अंसारी के अनुसार टूर्नामेंट में 10 दिनों तक मैच खेले जाएंगे। हर दिन पांच से सात मैच खेले जाएंगे। 11, 12, 14, 16 मई को अलग-अलग 14 टीमों के बीच सात मुकाबले खेले जाएंगे। वहीं, 13 और 15 मई को अलग-अलग 10 टीमों के बीच पांच मुकाबले खेले जाएंगे। 17 मई को डी ग्रुप के सिर्फ दो मुकाबले होंगे। इसके बाद क्वार्टर फाइनल, सेमीफाइनल और फाइनल मुकाबले होंगे।

इन टीमों के बीच होगा मुकाबला
पूल-ए – ओडिशा, पंजाब, नामधारी-11, आंध्रप्रदेश और यूनिट ऑफ तमिलनाडु
पूल-बी – उत्तरप्रदेश, मध्यप्रदेश हॉकी एकेडमी, कर्नाटक, भोपाल और महाराष्ट्र
पूल-सी – हरियाणा, चंडीगढ़, बिहार, दिल्ली हॉकी और असम
पूल-डी – हॉकी गंगपूर, साई, झारखंड, मणिपुर और राजस्थान

छत्तीसगढ़ टीम बी डिविजन में उतरेगी बिलासपुर में 17 जून से होगा मैच
फ़िरोज़ ने जानकारी दी कि सब जूनियर नेशनल हॉकी टूर्नामेंट ए और बी डिविजन में होगा। पहले चरण में 11 से 22 मई तक रायपुर के इंटरनेशनल हॉकी स्टेडियम में मुकाबले होंगे। इसके बाद 17 से 29 जून तक बहतराई स्टेडियम में होगा। छत्तीसगढ़ की टीम बिलासपुर में होने वाले टूर्नामेंट में उतरेगी। पहले चरण का मुकाबला खत्म होने के बाद बिलासपुर में ट्रायल लिया जाएगा। इसके बाद टीम की घोषणा की जाएगी। चयनित खिलाड़ियों के लिए बिलासपुर में ही ट्रेनिंग कैंप लगाया जाएगा।

SJM-A-2019-0804201931