Published On : Fri, Sep 3rd, 2021

कोराडी पावर प्लांट मे C.E.खंडारे के कड़े अनुशासन हडकंप

कोराडी/नागपुर -महानिर्मिती के कोराडी पावर प्लांट मे कार्यरत वर्तमान मुख्य अभियंता प्रकाश खंडारे के दिशा निर्देशों पर सभी शेक्शन इंचार्ज अभियंताओं ने अनुशासन कड़ा अनुशासन कड़े कर दिय गये है। नतीजतन महानिर्मिती के सभी स्टाप कर्मियों तथा ठेका श्रमिकों में हडकंप मचा हुआ है.

सुरक्षा विभाग के मुताबिक ड्यूटी मे एक आधा मिनट भी लेट हुए कर्मियों को मुख्य सुरक्षा द्धार के बाहर यानी वापस कर दिया जाता है।नतीजतन गैरहाजिर और रोजी रोटी छिन जाने का भय श्रमिकों को सताने लगा है।परिणामतः सभी कर्मि अब निर्धारित समय पर ड्यूटी पर पंहुचने लगे हैं। सभी कर्मचारियों तथा ठेका श्रमिकों को सेफ्टी बेल्ट सेफ्टी सूज हेलमेट आदि सुरक्षा संसाधन अनिवार्य कर दिया गया है। यहां पावर प्लांट में पर्यावरण की दृष्टि से की स्वक्षता साफ सफाई रखा जाना चाहिए। बताते हैं कि पिछले कई अरसों से यहाँ कोराडी पावर प्लांट मे जगह जगह गंदगी का अंबार लगा रहता था।

अनेक छुटभैये किस्म के कर्मि सुरक्षा द्धार पर अपनी उपस्थिति दर्ज करवाकर गेट से बाहर निकल जाते और उन्हें देशी विदेशी शराब दुकानों के इर्द-गिर्द मंडराते तथा सभाओं में मंडराते हुए देखा जाता था। सुरक्षा अधिकारियों के विरोध करने पर उन्हे जबाव मिलता था तुम जानते नही मै अमुक मंत्री का करीबी हूँ।अगाऊ की बात किया तो नोकरी से हाथ धोना पड़ेगा। ड्यूटी से निकलवा दूंगा आदि अपमानजनक बातें शेक्शन इंचार्ज और सुरक्षा कर्मियों को सुनना पडता था। परंतु C.E. श्रीं खंडारे के पदसूत्र संभालते ही घमंडी कर्मियों के भोस ठिकाने लगने लगा है।

सभी अधिकारियों और कर्मियों को अनुशासन, शिष्टाचार तथा कर्तव्यपालन के निर्देश दिये गये हैं। इससे कामचोर निट्ठल्ले और मनचले कर्मियों की हुलिया बदलती नजर आने लगी है.

इतना ही नहीं ड्यूटी पर शराब के नशे में धुत कर्मियों की भी अब खैर नहीं शराब के नशे में काम करने वाले श्रमिकों को काम से निकाल देने के निर्देश दिये गये है।उन्होंने सभी अधीनस्थ अधिकारियों अभियंताओं शेक्शन इंचार्ज तथा कर्मियों को अपनी जिम्मेदारी और जबाबदारी भलीभांति निभाने का निर्देश भी दिया है।

मुख्य अभियंता श्री खंडारे से श्रमिक संगठनों के अपेक्षा व्यक्त की है कि यहाँ कार्यरत सभी ठेका श्रमिकों को निर्धारित तिथि पर पगार उपलव्ध करवाने की व्यवस्था किया जाना चाहिए। इसके अलावा यहाँ सभी ठेका फर्मों के पिछले 6 महीनों से प्रलंबित बिलों का भुगतान के लिए आवश्यक निधी उपलब्ध कराया जाए।एसी अपेक्षा कान्ट्रक्टर एसोशियेशन ने की है।बताते है कि C.E. श्रीखंडारे के ऊर्जा मंत्री डा नितिन राऊत से बहुत ही प्रगाढ संबंध रहे है परिणातः पावर प्लांट सहित विधुत आवास कालोनी का सर्वांगीण विकास के लिए अधिक से अधिक निधि उपलव्ध कराया जाना चाहिए.