Published On : Tue, Jun 26th, 2018

स्ट्रेचर नहीं देने पर महिलाओं को चादर में ले जाना पड़ा अपना मरीज़

नांदेड: एक तरफ विकास, उन्नति और जनहित के बड़े कदम सरकार और प्रशासन द्वारा उठाए जाने की बात हर कदम पर की जा रही है, वहीं दूसरी ओर मध्यम वर्ग और गरीब तबके के अधिकार की मूलभूत सुविधाएं प्रभावित न होने के चलते उन तक नहीं पहुंच पा रही है.
नांदेड गुरु गोविंद सिंह सरकारी अस्पताल में इलाज के लिए आने वाले मरीजों को शर्मसार करने वाला वीडियो सामने आया है. जिसे देख यह समझ नहीं आता कि अस्पताल प्रशासन को दोष दें या मरीज की परिस्थिति को कोसें. एक अधेड़ उम्र की महिला जिसके पांव में बड़ी चोट है जो चल नहीं सकती पांव में प्लास्टर लगा है जिसे कहीं जाने आने के लिए स्ट्रेचर या व्हील चेयर की सबसे ज्यादा जरूरत है उसे नांदेड का अस्पताल यह सुविधा भी मुहैया नहीं करा पाया. ऐसे में परिवार की दूसरी महिला सदस्यों को मरीज को चादर पर रख कर खींच कर ले जाने पर मजबूर होना पड़ा.

यह दृश्य प्रशासन की पोल खोलता है और साफ करता है कि समाज में आज भी गरीब तबके के लोग मूलभूत सुविधाओं से व्यवस्था होने के बाद भी प्रशासन के उदासीन रवैय्ये के चलते वंचित रह जाते हैं.

– By Narendra Puri