Published On : Mon, Jan 19th, 2015

गड़चिरोली : सुदृढ़ युवा शक्ती ही देश की सच्ची संपत्ती – पालकमंत्री आत्राम


मिनी मैराथॉन स्पर्धा में सहभागियों को पुरस्कार वितरित

Mini Marathon  (2)
गड़चिरोली।
शैक्षणिक विकास के साथ ही शारीरीक विकास की जरुरत होती है. मतलब सर्वांगिक विकास होने के लिए मैराथॉन स्पर्धा का आयोजन हर साल किया जाता है. अपने देश के सुदृढ़ युवा शक्ती ही देश की सच्ची संपत्ती है. ऐसा प्रतिपादन राज्य के आदिवासी विकास राज्यमंत्री राजे अंब्रीशराव आत्राम ने किया.

नामदेवराव पोरेड्डीवार कॉलेज ऑफ़ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी गडचिरोली, जिला क्रिड़ा अधिकारी कार्यालय तथा जिला क्रिड़ा परिषद गडचिरोली के संयुक्त कार्य से मिनी मैराथॉन का आयोजन किया गया था. स्पर्धा गडचिरोली शहर के इंदिरा गांधी चौक से शुरू होकर बोदली के कॉलेज तक 7 कि.मी. दुरी तक ली गयी. इस मैराथॉन स्पर्धा में 350 छात्रों ने सहभाग लिया. स्पर्धा में विविध स्कुल, महाविद्यालयों का समावेश था.

इस दौरान कार्यक्रम के अध्यक्ष सांसद अशोक नेते, विधायक डा. देवराव होली, विधायक कृष्णा गजबे, सहकार महर्षि अरविंद सावकार पोरेड्डीवार, प्राचार्य डा. प्रवीण पोटदुखे, पुर्व जिला परिषद अध्यक्ष रविंद्र ओलालवार, प्रकाश सावकार पोरेड्डीवार, जिला क्रिड़ा अधिकारी माणिक वाघमारे आदि उपस्थित थे.

Mini Marathon  (1)
आगे पालकमंत्री ने कहाँ, यहां के इंजिनीअर कॉलेज ने जो मिनी मैराथॉन स्पर्धा का अभियान चलाया वो तारीफ करने लायक है. यह अभियान को आंदोलन की तरह लेना चाहिए. अपने जिले की पहचान पिछड़े, दुर्गम, आदिवासी के तौर पर होती है. लेकिन उच्च शिक्षा की सुविधा होने से जल्द ही यह प्रतिमा यहाँ के छात्र बदलेंगे. अपने जिले में जल, जमीन, जंगल, खनिज अधिक है. यहाँ उद्योग खड़े करके भविष्य में तैयार हो रहे अभियंताओं को रोजगार मिलके विकास की ओर एक कदम बढ़ेंगा.

इस दौरान अरविंद सावकार पोरेड्डीवार, विधायक डा. देवराव होली, विधायक कृष्णा गजबे, तथा कार्यक्रम के अध्यक्ष अशोक नेते ने विद्यार्थियों के मार्गदर्शन पर भाषण दिए. वहीं विजेता छात्रों को नगद रकम, स्मृती चिन्ह और प्रमाणपत्र देकर सन्मानित किया गया. कुछ छात्रों को प्रोत्साहन पर पुरस्कार दिए गए.
कार्यक्रम का संचालन प्रा. रागिनी चिंतामन पाटिल तथा आभार प्रदर्शन विधायक प्रा. उज्वला म्हशाखत्री ने किया.