Published On : Mon, Jan 28th, 2019

नागपुर में चोरी 27 वाहन बरामद, क्राईम डिटेक्शन यूनिट-3 नें शहरपुलिस की बढाई साख…

पाटनसावंगी और सांवनेर के आसपास रिश्तेदारों को दिये चोरी के वाहन- उपायुक्त संभाजी कदम नें पत्र परिषद में बताया

नागपुर: शहर पुलिस की अपराध शाखा यूनिट तीन ने वाहन चोरों की गिरफ्तारी कर आठ लाख बासठ हजार रूपये मूल्य के कुल 27 वाहनों की बरामदगी की हैं. क्राईम डिटेक्शन के उपायुक्त संभाजी कदम के मार्गदर्शन में यूनिट तीन के पुलिस निरीक्षक जगवेंद्र राजपूत एपीआई योगेश शामराव चौधरी, पीएसआई माधव शिंदे सहित प्रघान आरक्षक रफीक खान, शैलेष पाटील, विठ्ठल नासरे, अरूण धर्में, रामचंद्र कारेमोरे, एनपीसी दया बिसेंद्रे , राकेश यादव,हरीष वावणे,पीसी विकास पाठक, बादल माँढरे, प्रआ. राजू पोतदार और पीसी सत्येंद्र यादव नें वाहन वरामदगी की इस महत्वपूर्ण कार्रवाई में हिस्सा लिया.

वाहन चोरी के आरोपियों के पास से तेरह हीरो होंडा स्पलैंडर, छह होंडा अक्टीवा वाहन, पांच हीरो होंडा पैशन , एक बजाज पल्सर और बजाज कंपनी के दो अन्य वाहनों की बरामदगी हुई है. इस प्रकार कुल जमा आठ लाख बासठ हजार रूपये मूल्य के वाहनों की बरामदगी की गई है.


तहसील पोलिसस्टेशन के अन्तर्गत अपराध क्र.551/18 कलम 379 भादवी के अन्तर्गत दर्ज अपराध में फिर्यादी अरूण तानबाजी खापरे के मामले में कबडस बस्ती पाटनसावंगी निवासी अनिल उर्फ यादव नामदेव सोमकुँवर वय 38 को आरोपी बनाया गया है. लकड.गंज 30/19 भादवि 379 मामाले में फिर्यादी सुमीत राजू वाघाडे. वय 21 वर्ष राहणार शिवाजी नगर गणपति मंदिर पो.स्टे. कोतवाली मामले में मुजाहिद उर्फ मुज्जू अंसारी वल्द कमरूद्दीन अंसारी कब्रिस्तान रोड मोमिनपुरा और नूर मोहम्मद उर्फ सल्लू वल्द पीर मोहम्मद वय 19 बर्ष आरोपी बनाये गये है. इन आरोपियो पर पूर्व में कोई मामला दर्ज नहीं है तथा पूर्व में किसी भी अपराध में इनकी गिरफ्तारी नहीं हुई है. ताजा बरामदगी में जांचाधीन उन मामलों में हुई जो पोलिस स्टे. अजनी के छह, सदर के पांच,पोस्टे. बर्डी के दो , धंतोली के दो,पो. स्टे. तहसील के दो, बजाजनगर का एक, कोतवाली का एक,गणेशपेठ , लकड.गंज और शांतिनगर के एक-एक मामले पंजीबद्ध है.

उपायुक्त डिटेक्शन संभाजी कदम ने आयोजित पत्रपरिषद में बताया कि वाहनचोरों की इस प्रकार हुई पकड की कार्रवाई , पुलिस आयुक्त डा. भूषण कुमार उपाध्याय, संयुक्तायुक्त रविन्द्र कदम के मार्गदर्शन डिटेक्शन की टीम सहायक आयुक्त संजीव कामळे और यूनिट क्रं-3 के पुलिस अधिकारियों कर्मचारियों की दक्षता से हुई है. बताया गया कि ये आरोपी गाडियों की चोरी करते समय इलेक्ट्रिकल साकेट को तोड.कर डायरेक्ट स्टार्ट कर वारदात को अंजाम देते रहे हैं. नागपुर के आसपास के सांवनेर, पाटणसावंगी और दीगर ग्रामीण क्षेत्रों में बसे अपने रिश्तेदारों और परिचितों को गाडियां सौप देते थे.