Published On : Tue, Oct 7th, 2014

नागपुर : सोनबा मुसले की उम्मीद पर फिरा पानी; उम्मीदवारी रद्द करने के खिलाफ की गई अपील खारिज

Advertisement

Sonba Musle
नागपुर टुडे।
 विधानसभा चुनाव में सावनेर विधानसभा चुनावी क्षेत्र से भाजपा के तथाकथित उम्मीदवार सोनबा मुसले की उम्मीदवारी को निर्दलीय उम्मीदवार ने आक्षेप दर्ज करवाया था,तब मामले की गंभीरता को देखते हुए सावनेर विधानसभा के चुनाव अधिकारी ने सूक्ष्म छानबीन कर लगाये गए आरोप की सत्यता सिद्ध होने पर मुसले का आवेदन रद्द कर दिया था.फिर मुसले ने उच्च न्यायालय की शरण में गए ,जहाँ आज उनकी अपील खारिज कर दी गई है.

पी एम मोदी को विरोधियों का तोहफा !

आज भाजपा ने चुनाव पूर्व पहली सीट से हार का सामना किया ,यह मामला तब और रोचक हो गया क्योंकि आज नागपुर शहर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की चुनावी सभा है,विरोधियो का यह मानना है कि न्यायालय का उक्त निर्णय मोदी के नगरागमन के स्वागत के लिए काफी है.

उक्त निर्णय पूर्व,सावनेर के भाजपाइयों ने सावनेर विधानसभा क्षेत्र में यह अफवाह उड़ाई थी कि मुसले की उम्मीदवारी में कांग्रेस उम्मीदवार सुनील केदार का हाथ है,इसके जवाब में केदार ने विगत दिनों खापरखेड़ा के अन्ना मोड़ पर आयोजित सभा के मंच से मुसले समर्थको को ललकारा था कि विधायक बनने चले,पहले फॉर्म तो भरना सीख लें.

कांग्रेस को भी झटका ; जय प्रकाश गुप्ता आज छोड़ेंगे पार्टी

पिछले ४० वर्षो से कांग्रेस में बने हुए जयप्रकाश गुप्ता को लगातार ३ विधानसभा चुनाव से उम्मीदवारी मांगने के बावजूद पार्टी ने दरकिनार किया. वही मध्य नागपुर से उनकी जगह अनीस अहमद को उम्मीदवारी दी.गुप्ता का कहना है कि कांग्रेस पार्टी ने अनीस अहमद को परमानेंट “एबी” फॉर्म दे दे.ताकि वे जहाँ से चाहे हर चुनाव लड़ते रहे.इससे क्षुब्ध होकर आज गुप्ता मोदी की सभा में भाजपा प्रवेश करेंगे. जो कि कांग्रेस और मध्य नागपुर से कांग्रेस उम्मीदवार के लिए सबसे बड़ा झटका माना जा रहा है.

-राजीव रंजन कुशवाहा

Advertisement

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
 

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement