Published On : Sat, Apr 11th, 2015

कोंढाली : सामाजिक-आर्थिक-जागतिक सर्वेक्षण सूची तैयार


अवलोकन के लिए रखी गई है ग्रामपंचायतों में

Village family
कोंढाली (नागपुर)। राज्य शासन द्वारा सामाजिक-आर्थिक तथा जातीगत सूची का सर्वेक्षण किया गया. इस सर्वेक्षण की सूची बनाकर प्रत्येक गांव के स्थानीय स्वराज संस्था के कार्यालय में प्रकाशित की गई है. इस सूची में दी गई जानकारी सही है अथवा गलत है. इसके लिए ग्रामसभा का आयोजन कर इस सूची में प्रकाशित जानकारी सर्व सामान्य जनता को बताने की जिम्मेदारी राजस्व तथा ग्रामविकास विभाग के कर्मचारियों को दी गई है. ग्राम पंचायत क्षेत्र की जानकारी संबंधित ग्रामसेवक-ग्रामविकास अधिकारी द्वारा ग्रामपंचायत में आयोजित ग्राम सभा में जानकारी देकर, इस सूची में प्रकाशित जानकारी पर आक्षेप या कुछ बदलाव करने की सुचना स्विकार की जाएंगी. यह काम ग्राम सचिव को करना है.

यह जो सूची बनाई गई है. वह सूची 2011 के जनगणना के आधार पर सर्वेक्षण बनाई गई है. इस सामाजिक-आर्थिक तथा जातीगत सर्वेक्षण सूची द्वारा प्रत्येक परिवार के आर्थिक-सामाजिक तथा जातीगत जानकारी इक्कठा की गई है. इस जानकारी के आधार पर शासन की ओर से दी जानेवाली विविध योजनाओं का लाभ दिए जाने का निर्णय लिया जाएगा. यह सर्वेक्षण में किसकी जानकारी सही है या गलत है इस पर आक्षेप तथा सुचना स्विकार किये जाने के लिए विशेष बैठक का आयोजन करने के आदेश दिए है.

ग्रापं कोंढाली द्वारा 11 अप्रैल को इस विषय पर ग्राम सभा का आयोजन किया गया था. ग्रामविकास अधिकारी डी.अ. राठोड द्वारा बताया गया है कि इस सूची को ऑनलाइन देखा जा सकता है. इस की वेब साईट www.secc.gov.in पर जानकारी 19 अप्रैल तक दिए जाने की जानकारी भी ग्रामविकास अधिकारी द्वारा दी गई है.

अनेक त्रुटिया है
सामाजिक-आर्थिक-जातीगत सर्वेक्षण में अनेक त्रुटिया है. यहां निर्देशित नाम लिखने में गलत नाम प्रकाशित किये गए है. इसी प्रकार अनेक परिवार के अनेक नाम प्रकाशित ही नही हुए है. अनेक परिवार के उत्पन्न में भी गलत जानकारी प्रकाशित की गई है.

नमूना अ-ब-क
राज्य शासन द्वारा प्रकाशित सामाजिक-आर्थिक-जातीगत सर्वेक्षण सूची में दुरुस्ती करने के लिए, संबंधित पंचायत स्तरीय अधिकारी के पास नमूना अ-ब-क के फार्म है. इस में संबंधित आक्षेप नाम दुरुस्ती, नाम बढ़ाना आदि सभी के लिए, संबंधित नमुने में फार्म करने के लिए, ग्रापं से अर्ज प्राप्त करने की जानकारी ग्रामविकास अधिकारी द्वारा दी गई है.